Begin typing your search...

सिकंदराबाद : अग्निपथ हिंसा में रेलवे कर्मचारियों ने अपनी जान पर खेल 40 यात्रियों को मौत के मुंह से निकाला

जानकारी के अनुसार कम से कम 5,000 आंदोलनकारियों ने सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन में हमला बोल दिया और तोड़फोड़ की.

सिकंदराबाद : अग्निपथ हिंसा में रेलवे कर्मचारियों ने अपनी जान पर खेल 40 यात्रियों को मौत के मुंह से निकाला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

हैदराबाद: केंद्र सरकार की नई सेना भर्ती योजना अग्निपथ (Agneepath) के विरोध में गुस्साई भीड़ ने आज सिकंदराबाद रेलवे स्टेश (Secunderabad railway station) पर तीन ट्रेनों में आग लगा दी. इसके बाद भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग की. इस दौरान एक युवक की मौत हो गई और 15 से अधिक लोग घायल हो गये. जानकारी के अनुसार कम से कम 5,000 आंदोलनकारियों ने सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन में हमला बोल दिया और तोड़फोड़ की. एक यात्री ट्रेन के एक डिब्बे में आग लगाने की कोशिश की, जिसमें लगभग 40 लोग सवार थे. उनमें से कुछ बच्चों को रेलवे कर्मचारियों द्वारा समय पर कार्रवाई कर से बचा लिया गया.

एसी पावर कार मैकेनिक सुमन कुमार शर्मा ने एनडीटीवी को बताया कि ए- 1 कोच के अंदर कम से कम 40 यात्री थे और इस पर प्रदर्शनकारियों ने लाठी और पत्थरों से हमला कर दिया. शर्मा ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने कोच में आग लगाने की कोशिश की, लेकिन कर्मचारियों की सूझबूझ से समय पर कार्रवाई कर लोगों को बचा लिया गया. शर्मा ने बताया कि कोट के पीछे के दो गेट खुले थे, जित तरफ लोगों को उतारा जा रहा था और वहां पर रेलवे पुलिस लोगों को निकाल कर सुरक्षित जगह (अन्य कोच ) भेज रही थी. पीछे आरपीएफ के जवान खड़े थे, जो लोगों को सुरक्षित जगह में भेज रहे थे.

केंद्र सरकार की ओर से सेना में भर्ती की नई योजना 'अग्निपथ' के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन भीषण होता जा रहा है. देश के कम से कम सात राज्यों में शुक्रवार को प्रदर्शन देखे जा रहे हैं. बिहार और फिर उत्तर प्रदेश से फैली आग देश के कई और राज्यों तक पहुंच गई है.

शुक्रवार को तेलंगाना में हिंसक हो गए एक प्रदर्शन में एक मौत हो गई. खबर है कि तेलंगाना के सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन हिंसक हो गया था और वहां आगजनी की गई, जिसके बाद पुलिस को भीड़ हटाने के लिए हवाई फायरिंग करनी पड़ी. इसी दौरान एक जान चली गई और 15 से ज्यादा घायल हो गए. यूपी-बिहार में सुबह से ही प्रदर्शन चालू हो गए थे. कई जगह प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनों में आग लगा दी. रेलवे स्टेशनों पर तोड़फोड़ की. तेलंगाना, यूपी और बिहार के अलावा मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, हरियाणा और दिल्ली में भी प्रदर्शन की आंच पहुंची है.

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it