Begin typing your search...

गर्भवती महिला थी कोरोना पॉजिटिव तो अस्पताल में नहीं दी गई एंट्री, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म

तेलंगाना में एक गर्भवती महिला के कोविड-19 पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल ने अपने यहां भर्ती करने से इनकार कर दिया। अस्पताल अधीक्षक और घटना के वक्त ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को निलंबित कर दिया गया है।

गर्भवती महिला थी कोरोना पॉजिटिव तो अस्पताल में नहीं दी गई एंट्री, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

तेलंगाना में एक गर्भवती महिला के कोविड-19 पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल ने अपने यहां भर्ती करने से इनकार कर दिया। आज बुधवार को इस मामले में अस्पताल अधीक्षक और घटना के वक्त ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि घटना नगकरनूल जिले में स्थित कम्यूनिटी हेल्थ सेंटर (सीएचसी)की है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि सीएचसी में जब चिकित्सकों ने उन्हें एडमिट करे से इनकार कर दिया तब महिला ने अस्पताल के बाहर सड़क पर ही बच्चे को जन्म दिया।

मिली जानकारी के अनुसार यह गर्भवती महिला सीएचसी आई थीं। यहां उनका कोरोना टेस्ट किया गया था। यह टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आया था। जिसके बाद चिकित्सकों ने उन्हें सीएचसी में एडमिट करने से इनकार करते हुए उन्हें किसी अन्य स्वास्थ्य केंद्र में चले जाने के लिए कह दिया। प्रसव से तड़पती महिला ने आखिरकार अस्पताल के बाहर सड़क पर ही बच्चे को जन्म दे दिया। जिसके बाद आखिरकार महिला को अस्पताल के अंदर लाया गया और फिलहाल मां तथा बच्चे की हालत स्थिर है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस मामले को यहां प्रशासन ने घोर लापरवाही माना है। घटना के बाद तेलंगाना वैद्य विधान परिषद् के कमिश्नर डॉक्टर के रमेश रेड्डी ने सीएचसी के अस्पताल अधीक्षक और चिकित्सक को तुरंत सस्पेंड कर दिया है। अधिकारियों ने बताया कि सरकारी अस्पतालों को साफ-साफ निर्देश दिये गये हैं कि वो किसी भी कोरोना संक्रमित गर्भवती महिला को अस्पताल में भर्ती करने से इनकार नहीं कर सकते हैं।

Sakshi
Next Story
Share it