Top
Begin typing your search...

Abdullah Azam Khan News: आज रिहा हो सकते हैं आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम, जानें दोनों के चुनाव लड़ने को लेकर क्या है खबर

अब अब्दुल्लाह आजम के जेल से बाहर आने का रास्ता बिल्कुल साफ हो चुका है, लेकिन उनके पिता और रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान अभी सीतापुर जेल में ही रहेंगे

Abdullah Azam Khan News: आज रिहा हो सकते हैं आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम, जानें दोनों के चुनाव लड़ने को लेकर क्या है खबर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Rampur News: उत्तर प्रदेश में सीतापुर की जेल में बंद समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम आज शनिवार को सीतापुर जेल से रिहा हो सकते हैं. अब्दुल्लाह आजम और आजम खान 26 फरवरी 2020 से सीतापुर जेल में बंद है . अब्दुल्लाह आजम के खिलाफ लगभग 43 मुकदमे दर्ज हैं. बताया जा रहा है कि सभी 43 मुकदमों में अब्दुल्ला आजम को कोर्ट से जमानत मिल चुकी है और उनकी रिहाई के परवाने भी संबंधित अदालतों से सीतापुर जेल भेजे जा चुके हैं.

अब अब्दुल्लाह आजम के जेल से बाहर आने का रास्ता बिल्कुल साफ हो चुका है, लेकिन उनके पिता और रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खान अभी सीतापुर जेल में ही रहेंगे क्योंकि आजम खान को अभी कुछ मुकदमों में जमानत नहीं मिल पाई है इसलिए आजम खान को अभी जेल में ही रहना होगा.

अब्दुल्लाह आजम 2017 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर रामपुर की स्वार विधानसभा सीट से चुनाव लड़े थे और जीतकर विधायक भी बन गए थे लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी नवाब काजिम अली और सुना वेद मियां ने अब्दुल्लाह आजम की उम्र को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अब्दुल्लाह आजम का निर्वाचन रद्द कर दिया था. वह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है.

सभी मुकदमों में जमानत

अब्दुल्लाह आजम के खिलाफ लगभग 43 मुकदमे दर्ज हैं. इन सभी मुकदमों में अब्दुल्ला आजम को जमानत मिल चुकी है और अब वह जेल से बाहर आ जाएंगे. अब्दुल्लाह आजम के खिलाफ रामपुर जिले के थाना स्वार, गंज, अजीम नगर और सिविल लाइन थानों में मुकदमे दर्ज हैं. इसके अलावा उनके खिलाफ मुरादाबाद जनपद के थाना कटघर और छजलैट थाने में भी मुकदमे दर्ज हैं.

पत्नी को मिल चुकी है जमानत

26 फरवरी 2020 को आजम खान, उनकी पत्नी तंजीम फातिमा और बेटे अब्दुल्लाह आजम ने अपने खिलाफ चल रहे मुकदमों में रामपुर की जिला अदालत में सरेंडर किया था. जिसके बाद से अब्दुल्लाह आजम सीतापुर जेल में बंद हैं जबकि उनकी पत्नी तंजीम फातिमा पहले ही जमानत पर रिहा होकर घर आ चुकी हैं. अब कल अब्दुल्लाह आजम जेल से रिहा हो जाते हैं तो इसके बाद उनके परिवार से सिर्फ उनके पिता और रामपुर के सांसद आजम खान ही सीतापुर जेल में रह जाएंगे.

अब्दुल्लाह लड़ सकते हैं चुनाव

आजम खान को अभी कुछ मामलों में जमानत नहीं मिल पाई है इसलिए आजम खान अभी जेल से बाहर नहीं आए पाएंगे. ऐसे में जब उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं. आजम खान का सीतापुर जेल में बन्द रहना समाजवादी पार्टी के लिए बड़ा नुकसान माना जा रहा है. अब देखना यह होगा कि जेल से आने के बाद अब्दुल्लाह आजम यूपी चुनावों में भाग लेते हैं या नहीं. माना जा रहा है कि अब्दुल्लाह आजम जेल से बाहर आने के बाद समाजवादी पार्टी के लिए चुनाव प्रचार भी करेंगे और खुद भी विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे.

आजम खान भी लड़ सकते हैं चुनाव

खबर ये भी है कि रामपुर शहर सीट से आजम खान खुद विधान सभा का चुनाव लड़ सकते हैं हालांकि वे अभी रामपुर से लोकसभा के सांसद हैं लेकिन यहां से वह 9 बार विधायक रह चुके हैं और जब जब सूबे में सपा की सरकार बनी है तो आजम खान सरकार के सबसे कद्दावर मंत्री रहे हैं. इसलिए एक बार फिर आजम खान जेल से ही विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं. अब्दुल्लाह आजम के सीतापुर जेल से छूट कर रामपुर आने पर रामपुर में उनका भव्य स्वागत किया जाएगा जिसकी तैयारियां उनके समर्थक करने में जुट गए हैं.

Special Coverage Desk Editor
Next Story
Share it