Begin typing your search...

पटियाला में हिंसक झड़प के बाद एक्शन में भगवंत मान सरकार, 3 पुलिस अधिकारियों का तबादला, इंटरनेट भी बंद

Patiala

पटियाला में हिंसक झड़प के बाद एक्शन में  भगवंत मान सरकार, 3 पुलिस अधिकारियों का तबादला, इंटरनेट भी बंद
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

पटियाला में शुक्रवार को हुई हिंसक झड़प के बाद शनिवार को पंजाब सरकार एक्शन में आ गई। मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देश पर शनिवार को पटियाला रेंज के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी), वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) और पुलिस अधीक्षक (एसपी) का तत्काल प्रभाव से तबादला कर दिया गया। हालात की गंभीरता के मद्देनजर राज्य सरकार ने शहर में अस्थाई रूप से मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का फैसला लिया है। फिलहाल, मामले में 4 FIR दर्ज हो गई हैं। वहीं, हिंसा के विरोध में कई संगठनों ने शहर बंद का आह्वन किया है।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि मुखविंदर सिंह चिन्ना को पटियाला का नया आईजी बनाया गया है। वहीं दीपक पारिक और वजीर सिंह को पटियाला का क्रमश: नया एसएसपी और एसपी बनाया गया है।

ये है मामला

शिवसेना (बाल ठाकरे) ने 'खालिस्तान मुर्दाबाद मार्च' का आयोजन किया था। इस दौरान समूह की कुछ निहंगों समेत सिख कार्यकर्ताओं से झड़प हो गई थी। इसके बाद बाद दोनों समूहों के बीच पत्थरबाजी हुई और नारे लगाए गए। घटना के बाद पटियाला जिले में शुक्रवार शाम 7 बजे से लेकर सुबह 6 बजे कर्फ्यू लगा दिया गया था। इलाके में भारी पुलिस बल तैनात है।

बेअदबी का मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शिवसेना हिंदुस्तान नाम के संगठन के पवन गुप्ता का कहना है कि खालिस्तान समर्थकों ने मंदिर पर हमला किया है। उन्होंने मंदिर की बेअदबी के आरोप लगाए हैं। इधर, झड़प के बाद शिवसेना ने कार्यकारी अध्यक्ष हरीश सिंगला को पार्टी से बाहर कर दिया है। एसएसपी सिंह का कहना है कि इस विरोध रैली की इजाजत नहीं दी गई थी।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it