Begin typing your search...

ED का बड़ा एक्शन, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक गिरफ्तार

ED का बड़ा एक्शन, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक गिरफ्तार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अंडरवर्ल्ड कनेक्शन और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई की है। करीब छह घंटे तक चली पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने एनसीपी नेता व महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक को गिरफ्तार कर लिया है। ईडी ने सुबह सात बजे उनके घर पर छापा मारा था। करीब एक घंटे बाद ईडी उन्हें अपने साथ ले गई थी। इसके बाद से नवाब मलिक ईडी दफ्तर में ही मौजूद थे।

ईडी के अधिकारी जब उन्हें अस्पताल से मेडिकल परीक्षण के बाद ले जा रही थी तो मीडिया कर्मियों से बातचीत में नवाब मलिक ने कहा कि ये राजनीतिक साजिश है। हम लड़ेंगे और जीतेंगे भी।

सूत्रों के मुताबिक, ईडी की यह कार्रवाई अंडरवर्ल्ड से जुड़ी एक संपत्ति मामले में हुई है। इसमें दाऊद इब्राहिम का नाम भी सामने आ रहा है। दरअसल, ईडी इकबाल कासकर से जुड़े कथित जमीन सौदे को लेकर जांच कर रही है। पिछले सप्ताह ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर के मुंबई स्थित आवास पर छापेमारी की थी। ईडी ने नागपाड़ा में हसीना पारकर से जुड़े 10 अलग-अलग ठिकानों पर भी छापेमारी की थी। इसके अलावा एजेंसी ने दाऊद के भतीजे और पारकर के बेटे अलीशाह पारकर और छोटा शकील के गुर्गे सलीम कुरैशी उर्फ सलीम फ्रूट्स से भी पूछताछ की थी।

दाऊद के करीबियों से खरीदी जमीन?

नवंबर, 2021 में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक को लेकर खुलासा किया था। फडणवीस ने कहा था कि नवाब मलिक ने मुंबई में दाऊद के करीबियों से जमीन खरीदी थी। इसमें से एक मुंबई बम धमाकों में शामिल था। उन्होंने आरोप लगाया था कि बम धमाकों में उम्र कैद की सजा काट रहे शहा वली खान और हसीना पारकर के करीबी सलीम पटेल के साथ नवाब मलिक के व्यवसायिक संबंध हैं।

फडणवीस ने आरोप लगाया था कि कि सलीम पटेल के पावर ऑफ अटॉर्नी वाली कुर्ला में तीन एकड़ जमीन सॉलिडस नाम की कंपनी को बेची गई थी, जो नवाब मलिक की कंपनी है। यह कंपनी शहा वली खान के माध्यम से खरीदी गई थी। उन्होंने कहा कि जब जमीन का सौदा 2003 में हुआ तब भी नवाब मलिक मंत्री थी। 2019 में उन्होंने कंपनी से इस्तीफा दे दिया था। फडणवीस ने कहा था कि, नवाब मलिक और उनके रिश्तेदारों की कुल पांच ऐसी प्रॉपर्टी पकड़ी हैं, जिसमें चार का संबंध अंडरवर्ल्ड से है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it