Begin typing your search...

Begusari: घटना के विरोध में आज बेगूसराय बंद का आह्वान, बीजेपी ने बिहार में जंगलराज तो सत्तापक्ष इसे साजिश करार दिया

मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि बिहार में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है।

Begusarai Bandh, Begusarai Hindi News, Begusarai Breaking News, Firing in Begusarai, Begusarai Latest Updates, Begusarai, Begusarai MP Giriraj Singh,
X

Begusarai Bandh, Begusarai Hindi News, Begusarai Breaking News, Firing in Begusarai, Begusarai Latest Updates, Begusarai, Begusarai MP Giriraj Singh,

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Patna , Shivanand Giri

बेगूसराय की घटना के बाद बिहार में सियासी सरगर्मी तेज हो गई है।विपक्ष जहां जंगल राज करार दे रहा है वहीं सत्ता पक्ष इसे साजिश करार दे रहा है। बीजेपी नेता सुशील मोदी,बेगूसराय सांसद गिरिराज सिंह, अश्वनी चौबे ,राकेश सिन्हा सहित कई लोगों ने घटना की निंदा करते हुए सरकार पर जमकर हमला बोला है।इस बीच बीजेपी ने बेगूसराय बंद की घोषणा की है।

बीजेपी नेता व राज्यसभा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान के इतिहास में यह पहली घटना है जिसमें बाइक सवार दो अपराधियों ने दिनदहाड़े 30 किलोमीटर की दूरी में करीब एक दर्जन से ज्यादा लोगों को गोली मार दी है। जिसमें एक की मौत हो गयी। 10 से 11 लोग घायल हुए है।


सुशील मोदी ने कहा कि हिन्दूस्तान के इतिहास में यह पहली घटना होगी कि जब बाइक पर सवार दो लोग इस प्रकार से गोली मारते हुए निकल गये और पुलिस पकड़ भी नहीं पायी। उन्होंने इस घटना को बहुत ही दुर्भाग्य बताया। कहा कि जब से बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी है तब से अपराधियों के हौसले बुलंद है।


सुशील मोदी आगे कहते हैं कि महागठबंधन की सरकार बनने के बाद शायद अपराधियों को लगता है कि हमारी सरकार बन गयी। इसलिए इस तरह की हरकते कर रहे हैं। बिहार में लगातार स्थितियां बिगड़ती जा रही है। अभी तीन दिन पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉ एन्ड ऑर्डर को लेकर पुलिस विभाग के आलाधिकारियों के साथ बैठक की थी लेकिन उसका भी कोई नतीजा नहीं निकला। यह बहुत चिंता का विषय है बिहार के लोग दहशत के साए में जी रहे हैं। लोगों को लग रहा है कि कही फिर से जंगलराज की वापसी तो नहीं हो गयी है।

सांसद आर के सिन्हा ने कहा है कि इस घटना ने 1990 से 2005 के लालू प्रसाद के राज की याद दिला दी है।उन्होंने कहा कि बेगूसराय में जिस तरह से घटना में तेजी आई है उसको देखते हुए वहा के डीएम को उन्होंने रोक लगाने की दिशा में ठोस कदम उठाने को कहा था लेकिन प्रशासन गंभीरता से नहीं लिया उनकी बातों को।

केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला। उन्होंने कहा है कि इस ताबड़तोड़ गोलीबारी की घटना के जिम्मेदार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं। नीतीश कुमार ने जंगलराज की परिभाषा को बदल दिया है। गिरिराज सिंह ने मारे गए इंजीनियर के परिजनों को एक करोड़ मुआवजा एवं गोलीबारी से घायल लोगों को 50-50 लाख मुआवजा देने की मांग की है।


गिरिराज सिंह ने कहा है कि बिहार का दुर्भाग्य है कि राज्य के मुख्यमंत्री को बिगड़ती कानून व्यवस्था को जंगलराज कहने से डर लगता है। जंगलराज कहने पर नीतीश कुमार को उप मुख्यमंत्री सत्ता से हटा देगा। दो दिन पहले मुख्यमंत्री के नाक के नीचे पटना के थाना में घुसकर अधिकारियों का कालर पकड़कर अपराधी को छुड़ा लिया जाता है और मुख्यमंत्री कहते हैं कि यह जनता राज है जंगलराज नहीं। उनके फार्मूला में जनता राज की परिभाषा हो गया है कि अपराधी को थाना में घुसकर छुड़ा ले। जब अपराधी बेखौफ हो जाते हैं तो आज बेगूसराय में हुई घटना जैसी घटनाएं होती है। 30 किलोमीटर तक अपराधी गोली चलाते हुए चार थानों से गुजरता जाता है, बेरोकटोक गोली चलाता है और मुख्यमंत्री के शब्दों में यह जंगलराज नहीं जनता राज है। यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है, मुख्यमंत्री इस पर ध्यान दें, केवल पुलिस अधिकारियों की बैठक नहीं करें, मोबाइल बैन और चार थानों की पुलिस कहां थी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपराधी के बीच लाचार हैं और जंगलराज की नई परिभाषा बता रहे हैं, वह जवाब दें कि यह कैसा जनता राज है।


वहीं राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने इसे कुछ लोगों का साजिश करार दिया है।उन्होंने कहा हैं कि सरकार अपना काम कर रही है और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कुछ लोग सरकार को बदनाम करने के लिए साजिश कर रहे हैं ,जल्द ही ऐसे लोग बेनकाब हो जायेंगे।

इस बीच बीजेपी ने बेगूसराय बंद की घोषणा की है।बीजेपी नेताओं ने आमजनता से इस बंदी को सफल बनाने में सहयोग की अपील की है।

बता दें कि बिहार के बेगूसराय में बाइक सवार दो बदमाशों ने फिल्मी स्टाइल में करीब 40 मिनट के दौरान 35 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए एनएच 28 और 31 के किनारे लोगों पर ताबड़तोड़ कई गोलियां चलाई। इस हादसे में एक की मौत हो गई जबकि 10 अन्य लोग घायल हुए हैं। घटना के बाद इलाका पुलिस छावनी में तब्दील है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।


कांग्रेस प्रवक्ता आदित्य पासवान ने विपक्ष को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा हैं कि सरकार को बदनाम करने की सोची समझी साजिश है। बेगूसराय पुलिस काम कर रही है जल्द ही दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा। इस घटना में किसका हाथ है वो भी सब जल्द ही क्लियर हो जायेगा।


-

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it