Top
Begin typing your search...

क्या भाजपा में शामिल होंगे कैप्टन? अमित शाह और जेपी नड्डा से मिलने आ रहे हैं दिल्ली

क्या भाजपा में शामिल होंगे कैप्टन? अमित शाह और जेपी नड्डा से मिलने आ रहे हैं दिल्ली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पंजाब में कांग्रेस से मिले झटके के बाद से ही पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर सभी रास्ते खुले होने के संकेत दिए हैं। कांग्रेस आलाकमान से खुले तौर पर नाराजगी जाहिर करने के बाद से कैप्टन के बीजेपी में शामिल होने की अटकलों के बीच मंगलवार को अमरिंदर सिंह दिल्ली आ रहे हैं। दिल्ली में वह गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी चीफ जेपी नड्डा से मिलेंगे। तीनों नेताओं के बीच शाम 3.30 पर मुलाकात होने की संभावना है।

गौरतलब है कि कैप्टन ने जब पद से इस्तीफा दिया था तब मीडिया ने उनसे सवाल किया था कि क्या आप भाजपा में शामिल होंगे? तब कैप्टन ने जवाब देते हुए कहा था कि इस्तीफा देने के बाद सभी विकल्प खुले हैं। राजनीति के 52 साल के अनुभव और साढ़े नौ साल मुख्यमंत्री रहने पर उनके कई दोस्त बने हैं। वे अपने सहयोगियों से विचार कर इसपर फैसला लेंगे।

भाजपा नेता और हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया था। अमरिंदर के इस्तीफे के बाद अनिल विज ने लिखा था कि राष्ट्रवादी कैप्टन अमरिंदर सिंह उनके रास्ते में बाधा थे, इसलिए उन्हें राजनीतिक रूप से मार दिया गया। पंजाब में सभी राष्ट्रवादी ताकतों को कांग्रेस के गलत मंसूबों को नाकाम करने के लिए हाथ मिलाना चाहिए।

साल 2017 में पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले भी अमरिंदर कांग्रेस हाईकमान से आर-पार के मूड में थे। उस वक्त कैप्टन ने पहले जाट महासभा बनाकर कांग्रेस को चुनौती दी थी। इसी दौरान कैप्टन ने एक बयान देते हुए कहा था कि उस वक्त वह भाजपा में जाने के बारे में सोच रहे थे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it