Top
Begin typing your search...

यूपी की राजधानी लखनऊ में ठेकेदार की पीट-पीटकर हत्या

यूपी की राजधानी लखनऊ में ठेकेदार की पीट-पीटकर हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शुक्रवार की शाम एक ठेकेदार की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. ये घटना लखनऊ के गोसाइंगंज इलाके में हुई. आशंका जताई जा रही है कि ठेकेदार निर्मल अग्निहोत्री की हत्या जमीन विवाद को लेकर हुई.

बताया जा रहा है कि ट्रस्ट की जमीन को लेकर मंदिर के पुजारियों के साथ निर्मल अग्निहोत्री का विवाद हुआ था. आरोप है कि मंदिर परिसर में पुजारियों ने वारदात को अंजाम दिया. घटना के बाद मंदिर के पुजारी फरार हो गए.

बता दें कि गोरखपुर के होटल कृष्णा पैलेस में 27 सितंबर की रात कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत हो गई थी. मनीष गुप्ता होटल के कमरा नंबर 512 में अपने दो दोस्तों के साथ ठहरे हुए थे. गोरखपुर पुलिस की एक टीम वहां चेकिंग के लिए पहुंची थी और इसी दौरान मनीष गुप्ता की मौत हो गई. पुलिस का दावा है कि मनीष की मौत पैर फिसलकर गिरने के कारण हुई, जबकि मनीष के परिवार का और दोस्तों का कहना है कि मौत पुलिस की पिटाई से हुई.

जान लें कि गुरुवार को मनीष गुप्ता के परिवार से मुलाकात करने के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मनीष गुप्ता की पत्नी को भरोसा दिया था कि वो उनके साथ मिलकर CBI जांच की मांग करेंगे और अगले ही दिन योगी सरकार ने इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी.

साथ ही मनीष की मौत की जांच को गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दिया गया है. इसके अलावा सीएम योगी आदित्यनाथ ने मनीष के परिवार को 40 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी है और मुख्यमंत्री योगी ने मनीष की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता को कानपुर विकास प्राधिकरण में OSD के पद पर नियुक्त भी कर दिया है.

बता दें कि मामले की जांच के लिए SIT का गठन हो चुका था. लिहाजा जब तक सीबीआई मामले को टेक ओवर नहीं करती, तब तक एसआईटी जांच को आगे बढ़ाएगी.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it