Top
Begin typing your search...

डबल मर्डर: अधाधुध फायरिंग मे बदमाशों ने चाचा-भतीजा को भून डाला, दो लड़कियों सहित तीन का चल रहा इलाज

डबल मर्डर: अधाधुध फायरिंग मे बदमाशों ने चाचा-भतीजा को भून डाला, दो लड़कियों सहित तीन का चल रहा इलाज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्‍तर प्रदेख के गोरखपुर के झंगहा क्षेत्र में रविवार को डबल मर्डर से सनसनी फैल गई। बदमाशों ने घर पर चढ़कर अंधाधुंध फायरिंग की और चाचा-भतीजा को मौत के घाट उतार दिया। फायरिंग में दो लड़कियों समेत तीन लोग घायल हो गए हैं। दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। उन्‍हें मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद आरोपी परिवार सहित घर छोड़कर फरार हो गए हैं। घटनास्‍थल पर तनाव को देखते हुए भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है

इस बीच पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि जल्‍द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कुछ छह टीमें उनकी गिरफ्तारी के लिए लगी हैं। मिली जानकारी के अनुसार झंगहा क्षेत्र के जद्दूपुर में छठ पूजा के दिन आर्केस्ट्रा देखने के दौरान मकसूदन निषाद और गांव के ही श्याम यादव के बीच मारपीट हो गई थी। उस घटना में श्याम यादव का सिर फट गया था। तब श्याम यादव के परिवारीजनों की तहरीर पर पुलिस ने मकसूदन साहनी और पवन साहनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। उस घटना को लेकर मकसूदन निषाद का परिवार और समर्थक गुस्‍से में चल रहे थे। उसी बात को लेकर रविवार की दोपहर 12 बजे के करीब गांव के गुलशन निषाद ने 12-13 लोगों के साथ श्‍याम यादव के घर को घेर लिया। उन्‍होंने श्‍याम यादव के परिवार पर लाठी-डंडे और असलहे से हमला कर दिया।

हमलावरों से बचने के लिए श्‍याम यादव के परिवार के लोगों ने मौके से भागने की कोशिश की लेकिन बदमाशों ने दौड़ाकर उन्‍हें गोली मार दी। फायरिंग के दौरान श्याम यादव के चचेरे भाई विशाल यादव (उम्र 20 वर्ष) पुत्र रामायण यादव की मौके पर ही मौत हो गई। श्‍याम के बड़े पिता रामकिशुन यादव ( उम्र 65 वर्ष ) पुत्र स्व. रामजीत यादव सहित चार अन्‍य लोग बुरी तरह घायल हुए जिन्‍हें मेडि‍कल कालेज पहुंचाया। मेडिकल कालेज में डॉक्‍टरों ने रामकिशुन को मृत घोषित कर दिया।

मेडिकल कालेज में रामकिशुन की नतिनी रिंकी कुमारी (उम्र 22 वर्ष) पुत्री दीनानाथ, दीनानाथ और प्रियंका का इलाज चल रहा है। रिंकी कुमारी के दाहिने हाथ में गोली लगी है जबकि प्रियंका के चेहरे पर गोली का छर्रा लगा है। दीननाथ भी गोली लगने से घायल हैं।

वारदात के बाद बदमाश असलहा लहराते हुए मौके से भाग निकले। आरोपियों के घरों पर ताला लटक रहा है। उनके परिवार के सदस्‍य भी भाग गए हैं। घटना के बाद गांव में भारी पुलिस बल तैनात है। जिले के आला पुलिस अफसरों के साथ ही चौरीचौरा, झंगहा, गगहा, बेलीपार, पिपराइच और खोराबार थाने की पुलिस को मौके पर तैनात किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक हत्‍यारोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की छह टीमें लगाई गई हैं।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it