Begin typing your search...

गहलोत सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे किसान

गहलोत सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे किसान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कर्ज माफी के वादाखिलाफी के किसानों ने गहलोत सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन पर उतर गए हैं। चूरू में अखिल भारतीय किसान सभा तारानगर ने विभिन्न मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

कॉमरेड निर्मल प्रजापत ने बताया कि 17 सूत्री मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन शुरू किया गया है। प्रजापत ने बताया कि वर्तमान राज्य सरकार ने चुनावी घोषणा पत्र में यह वादा किया था कि किसानों का संपूर्ण कर्ज माफ करेंगे लेकिन बजट में किसी प्रकार का जिक्र नहीं किया गया है। पिछले साल खरीफ की फसल पूरी तरह चौपट हो गई थी। जिसकी क्रॉप कटिंग रिपोर्ट पर बीमा कंपनी ने एतराज जताया है। ऐसे में हम कंपनी के ऐतराज को सिरे से खारिज करने की मांग करते हैं।

ये हैं मांगे

निर्मल प्रजापत ने मांग उठाई कि खरीफ 2021 का क्लेम जारी किया जाए। उन्होंने बताया कि बहुत सारे किसान साथियों की जमीन कुर्की की जा रही है, उन्हें रोका जाए। क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति सुचारू रूप से की जाए आदि 17 सूत्री मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन शुरू किया गया है। इस मौके पर रामस्वरूप सहारण, चिमनाराम पांडर, विक्रम सोनी, पूर्णाराम सरावग, गणपतराम इसरान, शिवकरण जांगिड़ सहित किसान सभा के सदस्य उपस्थित रहे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it