Begin typing your search...

फतेहपुर: किसानों के सामने खड़ा हुआ बड़ा संकट

सरकारी नलकूप खराब होने से नहीं हो पा रही सिचाई

फतेहपुर: किसानों के सामने खड़ा हुआ बड़ा संकट
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फतेहपुर । शासन व प्रशासन भले ही किसानों को फसल सिंचाई की उत्तम सुविधा देने का लिए ना सिर्फ कटिबद्ध हो किंतु नलकूप विभाग के अधिकारियों के ढुलमुल रवैय्ये व बेपरवाही की वजह से किसानों को फ़सल सिंचाई की सुविधा नहीं मिल पा रही है।

अमौली विकास खण्ड के गोहरारी गाँव मे किसानों की फ़सल सिंचाई की सुविधा के लिए एक अदद नहर अथवा अन्य किसी प्रकार का जलीय श्रोत नहीं था। जहां किसानों की फसल सिंचाई की सुविधा को ध्यान में रखते हुए सरकार ने सरकारी नलकूप बनवाए थे।

जो कि पिछले कुछ वर्षों तक तो सही रहा लेकिन कुछ सालों बाद ही खराब हो गया। जिससे किसानों के सामने फिर फसल सिंचाई को लेकर संकट पैदा हो गया। लेकिन किसानों द्वारा विभागीय अधिकारियों समेत तहसील व जिला प्रशासनिक जिम्मदारों से लिखित मौखिक रूप से खराब पड़े सरकारी नलकूप को बनवाए जाने की अनगिनत बार मांग करने के बावजूद भी किसी भी जिम्मेदार ने उपरोक्त एकलौते खराब पड़े नलकूप को सही कराये जाने की जहमत नहीं उठाई। गांव के किसानो दयाराम पाल, ज्ञानसागर पाल, दिनेश सैनी, सन्तोष पाल, राम औतार आदि किसानों ने अपना दर्द बयां करते हुए कहा कि गाँव के इकलौते सरकारी नलकूप 18 बी०जी० नलकूप के शो पीस बने होने से हम लोगो की फसल की सिंचाई समय से नहीं हो पाती जिससे उपज अच्छी नहीं होती।

हम लोगो द्वारा विभागीय अधिकारियों समेत तहसील व जिला प्रशासनिक जिम्मदारों से उपरोक्त खराब पड़े सरकारी नलकूप को सही कराए जाने की बार बार लिखित व मौखिक मांग के बावजूद भी किसी भी जिम्मदार ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। जिससे हम लोगो को जहां फसल सिंचाई के लिए कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं रवि की फसल बुवाई भी इस बार समय से नहीं हो पाई। उन्होंने विभागीय समेत तहसील व जिला स्तरीय अधिकारियों पर भी मामले को लेकर बेपरवाही व अनदेखी बरतने का आरोप लगाते हुए सरकारी मशीनरी के प्रति गहरा रोष ब्यक्त किया।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it