Begin typing your search...

सांप के काटने से पिता और पुत्र की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम

सांप के काटने के बाद परिजन आनन-फानन में दोनों को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेलहर लेकर गए जहां जांच के बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया गया

सांप के काटने से पिता और पुत्र की हुई मौत, परिजनों में मचा कोहराम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बांका: बिहार के बांका जिले से एक बेहद दर्दनाक मामला सामने आया है.जहा बुधवार देर रात एक करैत सांप के काटने से पिता और पुत्र दोनों की मौत हो गई. हालांकि सांप के काटने के बाद परिजन आनन-फानन में दोनों को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेलहर लेकर गए जहां जांच के बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया गया. घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया. वहीं गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया है.पूरा मामला बेलहर थाना क्षेत्र के घोड़बहियार गांव का है.

जानकारी के मुताबिक, घोड़बहियार गांव के उपेंद्र तुरी का पुत्र शिवजी तुरी (30 वर्ष) बुधवार को साहिबगंज बाजार से मजदूरी कर शाम में घर आया था. अन्य दिनों की तरह उस दिन भी वह खाना खाने के बाद एक छोटे से तख्ते से बने बेंच पर सो रहा था. उसके बगल में ही नीचे जमीन पर उसका पुत्र बंटी कुमार (12 वर्ष) भी सोया हुआ था. इसी क्रम में एक विषैले करैत सांप ने बेटे बंटी कुमार के सिर पर काटा लेकिन बच्चे ने उसे नजरअंदाज कर दिया.

बच्चे को काटने के बाद सांप बेंच पर सोए पिता शिवजी तुरी के पैर में लिपट गया. सांप के पैर में लिपटने पर उन्हें महसूस हो गया कि उनके पैर में सांप लिपटा हुआ है. उसके बाद ज्यों ही उन्होंने पैर को झाड़ा तब तक उस विषैले सांप ने उन्हें भी पैर में काट लिया. इसी दौरान शोरगुल से घर के सभी सदस्य जग गए.

बच्चे के पिता ने पैर में जहर को फैलने से रोकने के लिए रस्सी बांध लिया था, लेकिन कुछ देर के बाद पिता और पुत्र दोनों की स्थिति काफी नाजुक होने लगी. यह देख परिजन आनन-फानन में दोनों को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेलहर पहुंचे. जहां डॉक्टर ने जांच के बाद दोनों को मृत घोषित कर दिया.



RUDRA PRATAP DUBEY
Next Story
Share it