Begin typing your search...

झारखंड के टाटा स्टील प्लांट में तेज धमाके के बाद लगी आग, कई के घायल होने की खबरें

झारखंड के टाटा स्टील प्लांट में तेज धमाके के बाद लगी आग, कई के घायल होने की खबरें
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

झारखंड के जमशेदपुर में टाटा स्टील के कोक प्लांट में भीषण आग लगी है। दमकल की कई गाड़ियों को मौके पर भेजा गया है। इस धमाके और आगजनी में तीन ठेका मजदूरों के चपेट में आने की खबर है। घायलों को इलाज के लिए तत्काल टीएमएच में भर्ती कराया गया है।

इस घटना पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी ट्वीट किया। उन्होंने पूर्वी सिंहभूम की डिप्टी कमिश्नर को टैग करते हुए कहा, "जमशेदपुर में टाटा स्टील प्लांट में ब्लास्ट होने की खबर मिली है। जिला प्रशासन, टाटा स्टील प्रबंधन के साथ सामंजस्य बनाकर घायलों के त्वरित इलाज हेतु कार्यवाई कर रही है।"

कंपनी सूत्रों ने बताया है कि नन ऑपरेशन कोल प्लांट में बैटरी ब्लास्ट होने के कारण यह हादसा हुआ। बताया गया है कि बैटरी में ब्लॉस्ट होने के बाद संयंत्र में आग लग गयी, जिससे पूरे प्लांट में अफरा-तफरी मच गयी। आगजनी की घटना की सूचना मिलते ही मौके पर तुरंत दमकल की गाड़ियां पहुंची और आग पर काबू पा लिया गया है।

आगजनी के कारणों का पता नहीं चल पाया है और घटना की जांच के आदेश दे दिये गये हैं। बताया गया है कि टाटा स्टील में सुरक्षा मानकों का सख्ती सेे पालन किया जाता है और सेफ्टी ऑफिसर हर पल पर पैनी नजर रखते हैं, इसके बावजूद इस हादसे ने सुरक्षा प्रबंध पर कई सवाल खड़े गये है। घटना की जांच के आदेश दे दिये गये है। फिलहाल इस संबंध में कोई भी अधिकारी कुछ भी आधिकारिक रूप से बताने को तैयार नहीं है।


स्थानीय लोगों का कहना है कि टाटा स्टील में इस तरह की घटना हाल के दिनों कभी नहीं हुई थी और जिस तरह से सुरक्षा मानकों का पालन किया जाता है, उससे वहां कार्यरत सभी ठेका मजदूर संतुष्ट नजर आते हैं और कभी भी किसी ठेका मजदूर को नुकसान की खबर नहीं मिलती है । ना ही कंपनी में मुआवजा और अन्य मांगों को लेकर किसी तरह का कोई आंदोलन होता नजर आता है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it