Top
Begin typing your search...

पूर्व मंत्री हिंद केसरी यादव का निधन

पूर्व मंत्री हिंद केसरी यादव का निधन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना। तिरहुत क्षेत्र के दिग्ग्ज नेता और पूर्व मंत्री हिंद केसरी यादव का निधन हो गया। वे काफी समय से बीमार चल रहे थे। इलाज के दौरान आज सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके भतीजा और भाजपा के युवा नेता भारत रत्न यादव ने बताया कि कुछ समय से बीमार चल रहे थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनके निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की।अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि वे कुशल राजनीतिज्ञ और समाजसेवी थे।

उनके निधन से राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में अपूरर्णीय क्षति हुई है। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। वे चार बार मीनापुर विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर चुके थे। एक जन नेता के रूप में उनकी पहचान रही है। बिहार सरकार में मंत्री भी रहे। जीवन के अंतिम क्षण तक हुए समाज के लोगों की चिंता कर रहे थे।

स्व. हिन्द केसरी यादव बिहार में शराबबंदी के लिए भी जाने जाएंगे।शराबबंदी को लेकर इन्होंने आंदोलन चलाया।बेरहमी की तरह शराब माफियाओं की लाठियां खाई,बुरी तरह घायल हुए।इस घटना को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद जी ने भी कहा था कि हिन्द केसरी जी के साथ शराब माफियाओं ने बहुत बुरा सलूक किया है।

हिंद केसरी साल 1995 में जनता दल से चुनाव लड़ते हुए कांग्रेस के सकलदेव सहनी को हराया। साल 2000 में दिनेश प्रसाद ने बतौर निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव जीता था। दिनेश ने आरजेडी के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरे हिंद केसरी को शिकस्त दी थी। हालांकि, साल 2005 के फरवरी महीने में हुए चुनाव में हिंद केसरी ने जेडीयू के टिकट पर चुनाव लड़ रहे दिनेश को हराकर 2000 के चुनाव में मिली हार का बदला चुकता कर लिया था।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it