Top
Begin typing your search...

ऐलनाबाद में बीजेपी का विरोध: गुरुद्वारे में माथा टेकने पहुंचे प्रत्याशी गोबिंद कांडा को किसानों ने धक्का देकर बाहर निकाला

ऐलनाबाद में बीजेपी का विरोध: गुरुद्वारे में माथा टेकने पहुंचे प्रत्याशी गोबिंद कांडा को किसानों ने धक्का देकर बाहर निकाला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ऐलनाबाद उपचुनाव के दौरान सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा और जजपा का विरोध गांवों में पुरजोर तरीके से किया जा रहा है। प्रदर्शनकारी किसान भाजपा नेताओं को गांवों के दौरे पर निकलने ही नहीं दे रहे हैं। शनिवार को जहां एक ओर भाजपा कार्यालय के उद्घाटन अवसर पर किसानों ने घेराव किया तो वहीं दूसरी ओर गुरुद्वारे में माथा टेकने पहुंचे भाजपा प्रत्याशी और उनके साथी नेताओं को धक्के मारकर बाहर निकाल दिया। हालांकि इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात रहा। पुलिस सुरक्षा के बीच एक घंटे के भीतर भाजपा नेताओं के काफिले को सिरसा की ओर रवाना कर दिया गया।

शनिवार को भाजपा ने ऐलनाबाद के आंबेडकर चौक के पास कार्यालय का उद्घाटन किया था। इसका उद्घाटन करने डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा और गोपाल कांडा पहुंचे थे। किसान एकता मंच के सदस्यों को जब इस बारे में सूचना मिली तो वे एकत्र होकर वहां पहुंच गए और सरकार व गोबिंद कांडा के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। इस दौरान यहां पर भारी पुलिस बल तैनात रहा।

दोपहर बाद गोबिंद कांडा का काफिला गांवों में प्रचार करने निकला तो किसानों ने यहां भी तीन गाड़ियों को काफिले के पीछे लगा दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इस दौरान भाजपा नेताओं का काफिला ममेरा गांव में पहुंचा तो किसान भी पीछे-पीछे पहुंच गए और भाजपा नेता गोबिंद कांडा को गाड़ी से नीचे ही नहीं उतरने दिया। इसी तरह मोसली, केसुपुरा, मल्लेकां, माधोसिंघाना तक किसान काफिले का पीछा करते हुए पहुंच गए। ऐलनाबाद क्षेत्र से काफिला जब वापस सिरसा पहुंचा तो किसान भी लौट गए।

गुरुद्वारे से धक्के मार भाजपा प्रत्याशी को निकाला बाहर

भाजपा प्रत्याशी ऐलनाबाद में कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद मेन बाजार से गुजर रहे थे। उस समय रास्ते में गुरुद्वारा सिंह सभा के सामने गाड़ी रोककर गोबिंद कांडा और ऐलनाबाद भाजपा शहरी मंडल अध्यक्ष जसवीर सिंह चहल माथा टेकने अंदर चले गए। इस दौरान पीछे से किसान भी गुरुद्वारे में पहुंच गए और विरोध शुरू कर दिया।

प्रदर्शनकारियों ने भाजपा प्रत्याशी को घेर लिया और गुरुद्वारे से बाहर निकाल दिया। इस दौरान किसान जसवीर चहल का हाथ पकड़कर बाहर ले आए और धक्का मारकर बाहर निकाल दिया। धक्का लगने से भाजपा कार्यकर्ता गिरते-गिरते बचे। इसके बाद पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और काफिले को सुरक्षित तरीकेेेे से वहां से रवाना कर दिया। किसानों ने इसका वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

Read more: https://www.amarujala.com/haryana/sirsa/gobind-kanda-reached-the-gurudwara-to-bow-his-head-was-pushed-out-sirsa-news-hsr6140153144

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it