Begin typing your search...

जरा हटके: हो सकता था तीसरा विश्व युद्ध!'एलियंस ने की थी हथियारों से छेड़छाड़, अमेरिका के पूर्व मिलिट्री चीफ का दावा

4 अमेरिकी एयरफोर्स ऑफिसरों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने का निर्णय किया है जिसमें वो एलियंस से जुड़े एस पूरे मामले का खुलासा करेंगे और सरकार के कुछ खुफिया दस्तावेजों को मीडिया के सामने पेश करेंगे। इसके जरिए वो अमेरिकी संसद का ध्यान इस मामले की ओर खींचना चाहते हैं जिससे कि वो एलियंस द्वारा हथियारों से छेड़खानी करने के मामले को गंभीरता से लें

जरा हटके: हो सकता था तीसरा विश्व युद्ध!एलियंस ने की थी हथियारों से छेड़छाड़, अमेरिका के पूर्व मिलिट्री चीफ का दावा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

एलियंस के होने और न होने पर काफी विवाद छिड़ा रहता है। कई जानकारों का दावा है कि दूसरे ग्रहों में जीव मौजूद हो सकते हैं जबकि कई लोग इसे सिर्फ कोरी कल्पना बताते हैं‌। इस बहस के बीच अक्सर लोग एलियंस और उनके यूएफओ देखने का दावा कर चुके हैं।

मगर इन दावों में कितनी सच्चाई है उसके बारे में कुछ भी ठोस नहीं कहा जा सकता है। हाल ही में अमेरिका के एक पूर्व मिलिट्री चीफ ने भी एलियंस को लेकर हैरान करने वाला दावा किया है जो कई लोगों के लिए चिंता का विषय हो सकता है।

अमेरिका के पूर्व एयरफोर्स ऑफिसर रॉबर्ट सालास 24 मार्च 1967 को मोनटाना के माल्मस्ट्रोम एयरफोर्स बेस पर मौजूद थे। उस वक्त वो वहां पर एक अंडरग्राउंड लॉन्च कंट्रोल फैसेलिटी के ऑन ड्यूटी कमांडर थे। उन्होंने हाल ही में ये दावा किया है कि उनके कंट्रोल में मौजूद दसों इंटरकॉन्टिनेन्टल बैलेस्टिक मिसाइल्स ने अचानक ही काम करना बंद कर दिया था। सालास ने दावा किया कि 8 दिन पहले यानी 16 मार्च 1967 को भी ऐसा ही हुआ था और एक दूसरी मिसाइल लॉन्च कंट्रोल फैसेलिटी की मिसाइल्स ने काम करना बंद कर दिया था।

इस घटना के बाद से सभी मिलिट्री कर्मियों ने मान लिया था कि ये काम एलियंस का है। एलियंस ने हथियारों से छेड़छाड़ किया और परमाणु हथियारों को बंद कर कुछ मिसाइल्स को चालू कर दिया था उनका दावा है कि एलियंस इस तरह तीसरा विश्व युद्ध करवा सकते थे।

अब सालास समेत 4 अमेरिकी एयरफोर्स ऑफिसरों ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने का निर्णय किया है जिसमें वो एलियंस से जुड़े एस पूरे मामले का खुलासा करेंगे और सरकार के कुछ खुफिया दस्तावेजों को मीडिया के सामने पेश करेंगे। इसके जरिए वो अमेरिकी संसद का ध्यान इस मामले की ओर खींचना चाहते हैं जिससे कि वो एलियंस द्वारा हथियारों से छेड़खानी करने के मामले को गंभीरता से लें और इसमें जांच करवाएं। 19 अक्टूबर को वॉशिंग्टन डीसी के नेशनल प्रेस क्लब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की जाएगी।

कुछ ही दिन पहले जेसन सुरेसी नाम के शख्स ने एक अमेरिकी एयर बेस के ऊपर मंडराते एक अजीबोगरीब चीज को रिकॉर्ड किया था। उसने दावा किया था कि वो एक यूएफओ ही है क्योंकि वो इंसानों द्वारा बनाए गए किसी यान जैसा नहीं लग रहा था।

Desk Editor
Next Story