Top
Begin typing your search...

Lakhimpur Violence: लखीमपुर हिंसा को लेकर आज राष्ट्रपति से मिलेगा कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल, राहुल-प्रियंका भी होंगे शामिल

राहुल गांधी की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर खीरी हिंसा मामले को लेकर आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेगा.

Lakhimpur Violence: लखीमपुर हिंसा को लेकर आज राष्ट्रपति से मिलेगा कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल, राहुल-प्रियंका भी होंगे शामिल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर खीरी हिंसा मामले को लेकर आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) से मुलाकात करेगा और इस घटना के तथ्यों से जुड़ा एक ज्ञापन उन्हें सौंपेगा. कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि पार्टी का यह प्रतिनिधिमंडल सुबह 11.30 बजे राष्ट्रपति से मुलाकात करेगा.

प्रतिनिधिमंडल में कौन-कौन नेता शामिल होंगे?

कांग्रेस के इस सात सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, वरिष्ठ नेता एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल शामिल होंगे.

26 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत करेंगे किसान

वहीं, लखीमपुर हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी के बाद भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की मांग की है. राकेश टिकैत का कहना है कि जबतक अजय मिश्रा अपने पद पर बने रहेंगे तबतक निष्पक्ष जांच होना संभव नहीं है. वहीं इस्तीफा ना देने पर उन्होंने आंदोलन करने की बात कही है.

लखीमपुर खीरी में राकेश टिकैत ने कहा कि, "अगर केंद्रीय मंत्री का इस्तीफा नहीं होगा तो यहां से आंदोलन की घोषणा करेंगे. इसको लेकर लखनऊ में बड़ी पंचायत होगी." लखीमपुर मामले में राकेश टिकैत ने अपनी योजना को लेकर बताया कि हिंसा में मारे गए किसानों के अस्थि कलश देश के हर ज़िले में जाएंगे और लोग उन्हें श्रद्धांजलि देंगे.

अरदास में किसानों के 5 बड़े फैसले-

15 अक्टूबर प्रधानमंत्री का पूरे देश में पुतला फूंका जाएगा.

18 अक्टूबर में ट्रेनें रोकी जाएंगी.

24 अक्टूबर को अस्थि विसर्जन होगा.

5 मृतक किसानों का शहीदी स्मारक बनाया जाएगा.

26 को लखनऊ में महापंचायत होगी.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it