Begin typing your search...

अधिकारी के केबिन से आ रही थी जोर-जोर से आवाजें, नजारा देखकर हैरत में पड़ गए कर्मचारी

अधिकारी के केबिन से आ रही थी जोर-जोर से आवाजें, नजारा देखकर हैरत में पड़ गए कर्मचारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

यूपी के हरदोई जिले के बीआरसी के अंदर से जोर-जोर से आवाजें आ रही थीं। सुबह जब ग्रामीण शौच को जाने को निकले तो उन्हें इसकी जानकारी हुई। पहले तो बीआरसी में लगा ताला और ऊपर से आवाजें सुनकर सभी घबराए, लेकिन जब पास जाकर देखा तो सभी हैरत में पड़ गए। बीआरसी के अंदर एक कुत्ता बंद था जो जोर-जोर से भौंक रहा था।

मामला जिले के हरियावां बीआरसी का है। यहां एक खंड शिक्षा अधिकारी की थोड़ी सी लापरवाही उन पर ही भारी पड़ गई। खंड शिक्षा अधिकारी बीआरसी को ताला लगाकर चले गए। ताला लगाने से पहले बीआरसी में एक कुत्ता आकर बैठ गया था। खुद को कमरे में बंद देख कुत्ते ने बीआरसी के अंदर ही उत्पात मचाना शुरू कर दिया। बीईओ के बंद आफिस में कुत्ते ने रातभर ऑफिस का कोना-कोना छान मारा और यहां रखे जरूरी अभिलेख फाड़ डाले। कुत्ते को जब इस पर भी शांति नहीं मिली तो उसने टेबल पर रखा कम्प्यूटर तक गिरा दिया।

कुत्ता आफिस में करीब 16 घंटे तक बंद रहा। इतना ही नहीं कुत्ते ने लकड़ी की अलमारी को तोड़ दिया। अलमारी में रखे कागजातों को फाड़ डाला। अगले दिन जब ग्रामीण शौच के लिए तालाब की तरफ गए तो उन्होंने कुत्ते के भौंकने की आवाज सुनी। ग्रामीणों ने बताया कि बीआरसी के अंदर से कुत्ते की भौंकने की आवाज आने पर बीआरसी में झांक कर देखा तो कुत्ते ने काफी नुकसान किया हुआ था। काफी ग्रामीण इकट्ठा हुए व बीआरसी के अंदर बंद कुत्ते द्वारा किए नुकसान का ग्रामीण तमाशा देखते रहे। सूचना के बाद कमरा खोला गया तब कुत्ता बाहर निकला।



Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it