Begin typing your search...

ताजमहल पर नाबालिग से प्रेम कहानी का हुआ पर्दाफाश

ताजमहल पर नाबालिग से प्रेम कहानी का हुआ पर्दाफाश
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुरादाबाद का एक युवक दूसरे समुदाय की नाबालिग को भगाकर ले जाना भारी पड़ गया क्यों कि एक छोटी सी चूक से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया युवक अनस अली निवासी मुगलपुरा, मुरादाबाद एक नाबालिग के साथ ताजमहल देखने पहुंचा। उसके हाथ में एक बैग था। दोनों ने पूर्वी गेट से ताजमहल देखने के लिए प्रवेश किया। इस दौरान चेकिंग के दौरान उन्होंने बैग वहीं छोड़ दिया। बैग को लावारिस देखकर पुलिस सीसीटीवी खंगालने लगी। थोड़ी देर में युवक और उसके साथ एक लड़की चेक प्वॉइंट पर पहुंची।

बैग में सोने के आभूषण मिलने पर एएसआई कर्मियों ने बैग देने से पहले उनके बारे में तस्दीक की तो मुरादाबाद पुलिस के इंस्पेक्टर ने बताया कि दोनों घर से भागे हुए हैं, उनकी रिपोर्ट दर्ज है।

वाकया बृहस्पतिवार दोपहर लगभग एक बजे का है। पूर्वी गेट पर एक लावारिस बैग मिलने पर उसे सीसीटीवी कैमरों के सामने खोला गया। उसमें 50 ग्राम सोने के आभूषण निकले। इस पर एएसआई की टीम ने ताजमहल में उद्घोषणा करवाई कि जिसका बैग रह गया है वह उसे ले जाए। कुछ ही देर में मुरादाबाद के मुगलपुरा, द्वितीय लाल स्कूल निवासी अनस अली (19) अपने साथ एक युवती को लेकर आया।

युवती ने बताया कि वह बैग जल्दबाजी में छोड़ गई थी, इसमें उसके आभूषण हैं। दोनों से पहचान के दस्तावेज दिखाने को कहा गया तो उनके पास आधार कार्ड या अन्य कोई पहचान पत्र नहीं था। शक होने पर एएसआई के कर्मचारियों ने युवक से घरवालों से मोबाइल पर बात कराने को कहा। जैसे ही अनस ने अपने घरवालों को कॉल किया वैसे ही एएसआई कर्मी ने मोबाइल उससे ले लिया। दूसरी ओर से आवाज आई कि वह सब इंस्पेक्टर जयदेव मुरादाबाद से बोल रहे हैं।

दरअसल अनस का मोबाइल सर्विलांस पर लगा था। उन्होंने बताया कि यह लड़का, लड़की को लेकर भागा है। थाने में एफआईआर दर्ज है। इस लड़की की शादी तीन चार माह पहले ही दूसरे लड़के के साथ हुई थी। आप इन्हें रोक लीजिए, हम लोग आगरा आकर कस्टडी में ले लेंगे। इसके बाद प्रेमी युगल को सीओ ताज सुरक्षा के माध्यम से थाना ताजगंज भेजा गया। प्रेमी युगल को थाना ताजगंज ले जाया गया।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it