Top
Begin typing your search...

हत्या के बाद 4 दिन तक मोक्ष के शव के साथ सोते रहे आरोपी, कबूलनामे में उगला सच

हत्या के बाद 4 दिन तक मोक्ष के शव के साथ सोते रहे आरोपी, कबूलनामे में उगला सच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राजधानी दिल्ली के मंगोलपुरी से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां पर युवक ने अपने एक नाबालिग दोस्त के साथ मिलकर फिरौती के लिए 5 साल के बच्चे का अपहरण कर लिया। और पकड़े जाने से डर से आरोपियों ने बड़ी बेरहमी से बच्चे हत्या कर डाली।

इतना ही नहीं दोनों आरोपी मासूम की लाश के साथ 4 दिन तक उसी कमरे में सोते रहे फिर डेडबॉडी को कंबल में लपेटकर ठिकाने लगा दिया। मंगोलपुरी के T-ब्लॉक के रहने वाले हरपाल ई-रिक्शा चलाते हैं. इनका एक 5 साल का मोक्ष एक दिन अचानक घर से गायब हो गया. पिता ने उसकी बहुत तलाश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया. हरपाल ने 1 अक्टूबर को बेटे की गुमशुदगी की शिकायत राजमार्ग थाने में दर्ज कराई। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस बच्चे की तलाश करने में जुट गई.

पुलिस जांच में जुटी हुई थी कि इसी बीच मंगोलपुरी चर्च के पास नाले के बाहर गुरुवार को एक बॉडी कंबल में लिपटी होने की सूचना पुलिस को मिली। पुलिस मौके पर पहुंची तो पाया कि कंबल में 5 साल के बच्चे का शव था. जो की दो-तीन दिन पुराना लग रहा था. बच्चे के शरीर पर चोट के निशान थे. जांच की गई तो पता चला कि ये वही बच्चा मोक्ष है, जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट 1 तारीख को उसके पिता हरपाल ने दर्ज कराई थी.

पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के सभी सीसीटीवी कैमरे को खंगाल डाला, जिनमें दो लड़के कंबल में लपेट कर कुछ लाते हुए देखे गए इनमें से एक की पहचान बच्चे के पड़ोसी सुभाष के रूप में हो गई. पुलिस में सुभाष को हिरासत में लेकर पूछताछ की जिसमें उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

पुलिस ने उसकी निशानदेही पर वारदात में शामिल नाबालिग को भी दबोच लिया. आरोपियों ने बताया कि पैसों के लिए उन लोगों ने बच्चे को अगवा किया था. 1 दिन बाद ही बच्चे ने शोर मचाया तो पकड़े जाने के डर से उसकी हत्या कर दी।



सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it