Begin typing your search...

मुठभेड़ में मारा गया एक लाख का इनामी बदमाश, 12 साल से पुलिस के लिए था सिरदर्द

मुठभेड़ में मारा गया एक लाख का इनामी बदमाश, 12 साल से पुलिस के लिए था सिरदर्द
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जौनपुर: जौनपुर में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. जहां शुक्रवार को एसपी अजय साहनी के नेतृत्व में एक लाख के इनामी सतीश सिंह को पुलिस ने मुठभेड़ में ढेर कर दिया. पुलिस टीम की तरफ से भी 2 पुलिसकर्मियों के घायल होने की सूचना है. यह वारदात सरपतहां थाना क्षेत्र के गैरवाह गांव में हुई. गोलियों की तड़तड़ाहट से पूरा इलाक दहल गया है.

बदमाश के पास से एके-47 व नाइन एमएम की पिस्टल बरामद हुआ है। मौके से पुलिस ने नीले रंग की पल्सर को भी कब्जे में ले लिया। वाराणसी जनपद के थाना चौबेपुर से गैंगेंस्टर एक्ट में पेशी के दौरान 2010 में फरार हो गया था।

जानकारी होते वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी समेत कई थानों की फोर्स घटनास्थल पर पहुंच गयी थी। पुलिस ने लाश कब्जे में ले लिया। एसपी ने बताया कि मारा गया बदमाश अंतरप्रांतीय हत्यारा व थाने का हिस्ट्रीशीटर था। डी- 63 गैंग का सदस्य बताया गया। हाल में ही सरायख्वाजा थाना क्षेत्र में हुए सपा नेता लालजी यादव व एक ग्राम प्रधान की हत्या में भी शामिल था।

राइस मिल गैरवां के पास दो व्यक्ति मोटर साइकिल से आते दिखे जिन्हें रुकने का इशारा किया गया। दोनों रुकने की बजाय पुलिस पर फायर करते हुए भागने लगे। पुलिस टीम ने पीछा करके मोटरसाइकिल सवार व्यक्तियों को गैरवा मानपुर के पास घेर लिया। बदमाशों द्वारा पुलिस पर एके-47 व पिस्टल से फायर किया गया जिससे दो पुलिसकर्मी घायल हो गए।

जवाबी कार्यवाही में एक बदमाश को गोली लगी तथा एक बदमाश मौके का फायदा उठाकर फायरिंग करते हुए भाग गया। घायल बदमाश को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया जहां डाक्टर द्वारा मृत घोषित किया गया। वर्ष 2019 में इसके द्वारा कांट्रैक्टर लालजी यादव की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। मनिया थाना सरायख्वाजा का मूल निवासी था।

AK-47, पिस्टल और भारी मात्रा में कारतूस बरामद

वहीं,जौनपुर जिले के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के मानिया गांव के रहने वाले शातिर अपराधी सतीश सिंह प्रिंस के ऊपर कई दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं. हिस्ट्रीशीटर सतीश सिंह करीब 1 लाख का इनामियां और D-63 गैंग का सदस्य था. उसके पास से पुलिस ने मुठभेड़ मे एक AK-47, एक 9 MM पिस्टल, ढेर सारी गोलियां और एक बाइक बरामद की. आपको बता दें कि जौनपुर में पहली बार किसी अपराधी के पास से पुलिस ने AK-47 जैसा घातक व अत्याधुनिक हथियार बरामद किया है. सतीश जुर्म की दुनियां में बेखौफ होकर लगातार वारदातों को अंजाम देकर पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ था. हालांकि शुक्रवार को पुलिस ने उसे एनकाउंटर में ढेर कर दिया.

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it