Begin typing your search...

मुठभेड़ में पुलिस ने नक्सली को मार गिराया, एके-47 के साथ कुछ अन्य हथियार भी बरामद

लखीसराय जिले के नक्सल प्रभावित पीरी बाजार थाना क्षेत्र में शनिवार की देर रात पुलिस और नक्सली के बीच हुई मुठभेड़ में एक हार्डकोर नक्सली की मौत हो गई है

मुठभेड़ में पुलिस ने नक्सली को मार गिराया, एके-47 के साथ कुछ अन्य हथियार भी बरामद
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखीसराय।लखीसराय जिले के नक्सल प्रभावित पीरी बाजार थाना क्षेत्र में पुलिस और नक्सली के बीच हुई मुठभेड़ में पुलिस ने एक हार्डकोर नक्सली को मार गिराया कुछ अन्य नक्सलियों को भी गोली लगे जाने की सूचना है। एक डीलर के बेटे को अपहरण कर नक्सलियों द्वारा ले जाने के क्रम में यह मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ में पुलिस ने न सिर्फ एक नक्सली को मार गिराया है, बल्कि एके-47 के साथ कुछ अन्य हथियार भी बरामद किए गए हैं।

पीरी बाजार थाना क्षेत्र के चौखरा गांव में शनिवार की रात करीब साढ़े-नौ से दस बजे के आसपास करीब 15 से 20 की संख्या में आए नक्सली स्थानीय डीलर भागवत महतो का अपहरण करने पहुंचे थे। चूंकि भागवत महतो प्रत्येक शनिवार और मंगलवार को पीरी बाजार थाना परिसर में स्थित मंदिर में भजन करते हैं, तो वे उस वक्त घर में मौजूद नहीं थे। इसी वजह से नक्सलियों ने भागवत के 25 वर्षीय पुत्र दीपक का अपहरण कर लिया और अपने साथ ले जा रहे थे। नक्सली वारदात के बाद परिजनों ने इसकी खबर भागवत को दी, तो उन्होंने थाना में ही मौजूद थानाध्यक्ष को सारी जानकारी दे दी।

लखीसराय जिले के नक्सल प्रभावित पीरी बाजार थाना क्षेत्र में शनिवार की देर रात पुलिस और नक्सली के बीच हुई मुठभेड़ में एक हार्डकोर नक्सली की मौत हो गई है। सूचना है कि कुछ अन्य नक्सलियों को भी गोली लगी है। एक डीलर के बेटे को अपहरण कर नक्सलियों द्वारा ले जाने के क्रम में यह मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ में पुलिस ने न सिर्फ एक नक्सली को मार गिराया है, बल्कि एके-47 के साथ कुछ अन्य हथियार भी बरामद किए गए हैं।

पीरी बाजार थाना क्षेत्र के चौखरा गांव में शनिवार की रात करीब साढ़े-नौ से दस बजे के आसपास करीब 15 से 20 की संख्या में आए नक्सली स्थानीय डीलर भागवत महतो का अपहरण करने पहुंचे थे। चूंकि भागवत महतो प्रत्येक शनिवार और मंगलवार को पीरी बाजार थाना परिसर में स्थित मंदिर में भजन करते हैं, तो वे उस वक्त घर में मौजूद नहीं थे। इसी वजह से नक्सलियों ने भागवत के 25 वर्षीय पुत्र दीपक का अपहरण कर लिया और अपने साथ ले जा रहे थे। नक्सली वारदात के बाद परिजनों ने इसकी खबर भागवत को दी, तो उन्होंने थाना में ही मौजूद थानाध्यक्ष को सारी जानकारी दे दी।


थानाध्यक्ष को मिली सूचना पर पुलिस छह बाइकों से महज दर्जनभर सुरक्षा बलों के साथ कार्रवाई के लिए निकल पड़ी। पुलिस को यह अंदेशा नहीं था कि नक्सलियों की संख्या अधिक होगी। खुद थानाध्यक्ष भी बाइक से ही थे, जबकि पुलिस की जिपसी में सिर्फ ड्राइवर मौजूद था, ताकि नक्सली को यह लगे कि बड़ी संख्या में पुलिस पहुंच गई है। हालांकि चौखरा के नजदीक ही भगतपुर से सटे पहाड़ी के पास ही पुलिस-नक्सलियों की मुठभेड़ शुरू हो गई। इस मुठभेड़ में हार्डकोर नक्सली प्रमोद कोड़ा की मौके पर ही मौत हो गई है। प्रमोद के पास से एक एके-47 बरामद हुआ है। बताया यह भी जा रहा है कि मुठभेड़ में अभियान दल के जवान बाल-बाल बच गए। कार्रवाई में शामिल एक मोटरसाइकिल पर कई बुलेट्स लगे हैं। मुठभेड़ के बीच नक्सली एक नीम के पेड़ को पुलिस के रास्ते का बाधक बनाते हुए वहां से भागने में कामयाब रहे।

पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार ने बताया कि शनिवार की देर रात नक्सलियों के द्वारा डीलर भागवत प्रसाद के पुत्र के अपहरण की वारदात को अंजाम दिया गया है। शव व हथियार को बरामद भी कर लिया गया है। पुलिस को सूचना मिली तो हमारे अभियान दल ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नक्सलियों को पहले आत्मसमर्पण की चेतावनी दी, जिसके बाद मुठभेड़ हुआ है। दोनों ओर से फायरिंग हुई है, जिसमें एक नक्सली की मौत हुई है। अभी एसएसबी, सीआरपीएफ, एसटीएफ और अभियान दल की टीम की संयुक्त कार्रवाई चिह्नित ठिकानों पर की जा रही है। दीपक की बरामदगी की हमारी लगातार कोशिश है।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it