Begin typing your search...

पंजाब के सीएम चन्नी ने किया एक और काबिलेतारीफ़ काम, सभी सीएम हुए हैरान, कैप्टन का भी सर शर्म से झुक जाएगा

1000 जवानों और कमरे जितनी बड़ी लग्जरी कारों पर जताई हैरानी, कहा– मैं आम आदमी और अपनों से सुरक्षा के लिए फौज की जरूरत नहीं

पंजाब के सीएम चन्नी ने किया एक और काबिलेतारीफ़ काम, सभी सीएम हुए हैरान, कैप्टन का भी सर शर्म से झुक जाएगा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने खुद को आम इंसान और हर प्रदेशवासी का भाई बताते हुए सरकारी कार्य प्रणाली में VIP कल्चर खत्म करने की बात कही। चन्नी ने अपना सुरक्षा घेरा कम करने का ऐलान करते हुए कहा कि वह आम लोगों में से ही एक हैं और अपने लोगों से सुरक्षा के लिए उन्हें 1000 सुरक्षाकर्मियों की फौज की जरूरत नहीं है।

यहां गुरुवार को I.K गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी में संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा, 'जब उन्होंने पद संभाला तो बताया गया कि 1000 सुरक्षा जवानों का दस्ता उनकी सुरक्षा के लिए होगा।' इसे सरकार के संसाधनों का बड़े स्तर पर नुकसान बताते हुए चन्नी ने कहा कि इस कवायद को चलाने की आज्ञा नहीं दी जा सकती। उन्होंने कहा कि उनके अपने पंजाबियों से उन्हें क्या नुकसान होगा। यह उन्हें भी तकलीफ देगा क्योंकि वह अन्य पंजाबियों की तरह ही एक साधारण व्यक्ति हैं। चन्नी ने खुद को खतरा होने के संबंध में सुरक्षा एजेंसियों के दिए तर्क को साइड करते हुए बताया कि उन्होंने पुलिस को सुरक्षा घटाने के लिए कह दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं कोई सुखबीर सिंह बादल थोड़े हूं। मुझे इतनी सुरक्षा की जरूरत नहीं।

2 करोड़ की कार को बताया अनावश्यक

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें इस बात के बारे में जानकर हैरानी हुई कि राज्य के प्रमुख के तौर पर उनके आरामदायक सफर के लिए कमरे जितनी महंगी कार है। कार की कीमत 2 करोड़ रुपए है जो करदाताओं के पैसों से खरीदी गई है। चन्नी ने कहा कि ऐसी LUXURY अनावश्यक है, इसकी उन्हें कोई आवश्यकता नहीं है। यह फंड लोगों खासकर कमजोर और वंचित वर्गों की भलाई के लिए खर्च किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह सादा रहन-सहन और उच्च विचार रखने में विश्वास रखते हैं। इसलिए VIP कल्चर हर कीमत पर खत्म किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आलीशन जीवन जीने का शौक रखने की बजाय वह पंजाब के लोगों की सेवा करने में विश्वास रखते हैं। उन्होंने अफसरों को यह यकीनी बनाने के लिए कहा कि उनके काफिले की गाड़ियां कम की जाएं। चन्नी ने कहा, वह VIP नहीं बल्कि साधारण पंजाबी हैं और कोई भी उन्हें किसी भी समय मोबाइल पर कॉल कर सकता है। लोगों की सेवा के लिए वह 24 घंटे मौजूद हैं।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it