Begin typing your search...

ताजमहल के बाद कुतुब मीनार विवाद, हिन्दू संगठनों ने किया हनुमान चालीसा पाठ, देखें VIDEO

ताजमहल के बाद कुतुब मीनार विवाद, हिन्दू संगठनों ने किया हनुमान चालीसा पाठ, देखें VIDEO
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

राजधानी दिल्ली में मंगलवार को कुछ हिन्दू संगठनों के सदस्यों द्वारा ऐतिहासिक इमारत कुतुब मीनार (Qutub Minar) के पास हनुमान चालीसा पाठ किया गया। इसके साथ ही हिन्दू संगठनों द्वारा इसका नाम कुतुब मीनार का नाम बदलकर विष्णु स्तंभ करने की मांग की गई है।

यूनाइटेड हिंदू फ्रंट का दावा है कि जैन और हिंदू मंदिरों को तोड़कर कुतुब मीनार को बनाया गया था। पुलिस ने संगठन के कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है। यह प्रदर्शन उस समय हुआ है, जब ताज महल को तेजो महालय बताकर उसके 22 कमरे खुलवाकर जांच कराने की मांग को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में याचिका दाखिल की गई है।

जानकारी के अनुसार, मंगलवाल सुबह से ही कुतुब मीनार के पास हिन्दू संगठनों का प्रदर्शन जारी है। हिंदू संगठन महाकाल मानव सेवा के सदस्यों ने कुतुब मीनार के पास हनुमान चालीसा पाठ कर विरोध जताया। हिन्दू संगठनों का दावा है कुतुब मीनार वास्तव में विष्णु स्तंभ है। इस मीनार का निर्माण जैन और हिंदू मंदिरों को ध्वस्त करके किया गया था।

हालांकि, इसकी जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस द्वारा कुतुब मीनार परिसर की सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है। वहीं, कुतुब मीनार के पास हनुमान चालीसा नहीं पढ़ने देने को लेकर दिल्ली पुलिस ने यूनाइटेड हिंदू फ्रंट के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष और राष्ट्रवादी शिव सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयभगवान गोयल को हाउस अरेस्ट कर लिया है।

विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता विनोद बंसल ने पिछले महीने कहा था कि कुतुब मीनार असल में विष्णु स्तंभ है। कुतुब मीनार को 27 जैन और हिंदू मंदिरों को तोड़कर बनाया गया था। हिंदुओं को चिढ़ाने के लिए ऐसा किया गया। उन्होंने कहा था कि जो भी मंदिर तोड़े गए थे, उनका पुनर्निर्माण किया जाए। इसके साथ ही हिंदुओं को कुतुब मीनार में पूजा करने की अनुमति दी जाए।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it