Begin typing your search...

रेप के आरोपी सिपाही ने की खुदकुशी, मरने से पहले रोते हुए वीडियो बना दर्द को किया बया

रेप के आरोपी सिपाही ने की खुदकुशी, मरने से पहले रोते हुए वीडियो बना दर्द को किया बया
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

आगरा के खंदौली के गांव नगला अर्जुन (मौजा सैमरा) में मंगलवार की रात जेल पुलिस के सिपाही जितेंद्र कुमार ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह अपनी ननिहाल में आया था। उसके खिलाफ फिरोजाबाद में दुराचार का मुकदमा दर्ज था। इस कारण वह परेशान था। मरने से पहले उसने मोबाइल में वीडियो बनाया। इसमें युवती और उसके परिजनों को आत्मघाती कदम का जिम्मेदार ठहराया।

मूलत: हाथरस के गांव रसगमा सहपऊ निवासी जितेंद्र कुमार पांच माह पहले ही जेल पुलिस में सिपाही पद पर भर्ती हुआ था। उसकी तैनाती बागपत जेल में थी। कुछ दिनों से वह अपनी ननिहाल में मामा अतर सिंह के घर रह रहा था। जितेंद्र ने खुद को कमरे में बंद करने के बाद चारपाई की रस्सी का फंदा बनाकर फांसी लगाई। उसका शव पंखे पर लटका मिला।

खुदकुशी से पहले एक वीडियो बनाकर वायरल किया। वीडियो में उसने गांव नगला नत्थे, खैरगढ़ (फिरोजाबाद) की एक युवती और उसके परिजनों को खुदकुशी का जिम्मेदार ठहराया। युवती उसकी दूर की रिश्तेदार है। वीडियो में उसने कहा कि युवती उस पर शादी का दबाव बना रही थी।

शादी से इनकार पर उसके खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज करा दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जितेंद्र कुमार का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा। उसका मोबाइल भी पुलिस ने कब्जे में लिया है। उसकी जांच कराई जाएगी।

जितेंद्र मानसिक तनाव में था। मुकदमे के बाद वह नौकरी नहीं कर पा रहा था। उसे गिरफ्तारी का डर था। वह भयभीत था। उसे लग रहा था कि अपने कारण वह रिश्तेदार और परिजनों को परेशान कर रहा है। ननिहाल पक्ष के लोगों ने बताया कि मंगलवार को जितेंद्र के मामा अपने कुछ परिचितों के साथ युवती के घर खैरगढ़ गए थे। ताकि वहां बातचीत से कोई हल निकाला जा सके। जितेंद्र घर में अकेला रह गया था। पीछे से उसने अपनी जान दे दी।

शाम को जितेंद्र के रिश्तेदार वापस लौटे। उन्होंने जितेंद्र को आवाज लगाई। उसने कोई जवाब नहीं दिया। कहीं दिखाई भी नहीं दे रहा था। उन्होंने उसकी तलाश शुरू की। एक कमरा अंदर से बंद था। घरवालों ने बाहर से आवाज लगाई। अंदर से किसी ने कोई जवाब नहीं दिया। दरवाजा नहीं खुलने पर घरवालों ने खिड़की को धक्का दिया। अंदर का दृश्य देखकर उनकी चीख निकल गई। हंगामा हो गया। भीड़ जुट गई।

जितेंद्र कुमार वीडियो में रोते हुए दिखाई पड़ रहा है। वह वीडियो में बोल रहा है कि अपने माता-पिता को सुरक्षित देखना चाहता है। उनसे कुछ नहीं कहा जाए। वीडियो में दो बार उसने युवती उसके माता-पिता और भाई का जिक्र किया है। बोल रहा है कि वे उसे धमका रहे हैं। झूठा मुकदमा लिखाया है। इन लोगों के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई की जाए।



नौकरी के बाद प्रेमिका से बनाई दूरी

थाना प्रभारी खंदौली विपिन कुमार गौतम ने बताया कि फिरोजाबाद की एक युवती से जितेंद्र की दोस्ती थी। नौकरी लगने के बाद जितेंद्र ने उससे दूरी बना ली। उसी युवती ने जितेंद्र के खिलाफ दुराचार का मुकदमा दर्ज कराया है। फिरोजाबाद पुलिस मुकदमे की जांच कर रही है।

माता-पिता को सुरक्षित देखना चाहता हूं

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it