Begin typing your search...

खतरे में स्कूली बच्चे, सीएम साहब बचा लीजिये!

खतरे में स्कूली बच्चे, सीएम साहब बचा लीजिये!
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फैसल खान बिजनौर

बिजनौर के नजीबाबाद के सटे दो अलग अलग गाँव मे सरकारी स्कूलों में गंदे नाले का पानी घुस गया है और गंदे पानी से स्कूली बच्चे व टीचर स्कूल जाने के लिए मजबूर दिखाई दे रहे हैं इस गंदे पानी से कई स्कूली बच्चे बीमारी का शिकार भी हो गए हैं बात यहां तक कि नहीं है जहाँ पर एक गाँव मुबारकपुर कल्हेड़ी के सरकारी स्कूल की छत से एक बिजली की एचटी लाइन भी गुजर रही है और स्कूली में कई कई फिट पानी भरा हुआ है टीचरों का कहना है कि यह एचटी लाइन दो बार टूट चुकी है लेकिन शिकायत करने पर भी बिजली विभाग के अधिकारी कुंभकरण की नींद सोए हुए हैं और स्कूली बच्चे जान जोखिम में डालकर स्कूल पहुंच रहे हैं लेकिन बिजली विभाग ने अभी तक कोई सुध नहीं ली है।


यह तस्वीरें है बिजनौर के नजीबाबाद सटे गांव राजारामपुर व मुबारकपुर कल्हेड़ी की जहां पर स्कूल में गंदी नालियों का पानी स्कूल में घुस गया है स्कूल में कई कई फुट पानी घुस गया है और स्कूल तालाब में तब्दील दिखाई दे रहा है स्कूली बच्चे स्कूल जाने के लिए मजबूर दिखाई दे रहे हैं इतना ही नहीं स्कूल में कई कई फीट पानी घुसजाने से स्कूल के मेन गेट पर टेबल डालकर रास्ता का सहारा ले रहे हैं कई स्कूली बच्चे टेबल पर से फिसल कर गिर भी चुके है मेकिंग ग्राम प्रधान वे टीचरों ने कई बार शिकायत करने के बाद भी आला अधिकारी ने अभी तक कोई सुध नहीं ली है अगर हम बात करें स्कूली बच्चों की संख्या की तो इन दोनों सरकारी स्कूलों में स्कूली बच्चों की संख्या एक मे160 के करीब है और दूसरे स्कूल में 180 करीब बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं इस गंदे पानी से बच्चों का बीमारी का खतरा भी बन सकता है हालांकि इस मौसम में डेंगू का प्रकोप ज्यादा चल रहा है लेकिन यह सोचने वाला कोई अधिकारी या प्रशासन नहीं दिखाई दे रहा है इससे पहले बच्चों की शिक्षा कोरोना कॉविड में खत्म हो गई है लेकिन अब सरकारी स्कूलों में गंदी नालियों का कई कई फुट पानी देखने को मिल रहा है।


इससे बच्चों की शिक्षा पर असर पड़ रहा है रोजाना कई बच्चे इस गंदे पानी का शिकार हो जाते हैं। इतना ही नहीं प्रधानाध्यापक ने साफ तौर पर बताया कि यहां पर शौचालय भी बंद हो गया है और रसोई घर में भी कई कई फिट पानी घुस गया है जिससे शौचालय भी बन्द हो गई है और स्कूली बच्चे वे टीचरों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है और अगर बात करें रसोईघर की तो खाना बनाने को मजबूर साफ तौर पर दिखाई दिए जहां पर स्कूल से हटकर पंचायत घर मे रसोई घर बना रखा है और 500 मीटर दूरी से पानी लाया जा रहा है।


हालांकि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने करोडो रुपये की लागत से सरकारी स्कूलों में खर्चा किए है लेकिन स्कूल की हालत अभी भी खराब दिखाई दे रही है यह तस्वीरें मुबारकपुर कल्हेड़ी व राजारामपुर गाँव की है इन दोनों ग्राम प्रधानों ने व टीचरों ने भी कई बार आला अधिकारी से शिकायत भी की है लेकिन प्रशासन के आला अधिकारी कुंभकरण की नींद सोए हुए हैं। शिकायत के बाद भी अधिकारी ने मौके पर जाकर जायजा तक भी नही लिया।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it