Top
Begin typing your search...

पीएम मोदी की सुरक्षा के चूक पर स्मृति ईरानी ने पंजाब कांग्रेस से पूछे ये तीन सवाल

पीएम मोदी की सुरक्षा के चूक पर स्मृति ईरानी ने पंजाब कांग्रेस से पूछे ये तीन सवाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा के चूक के मसले पर भाजपा ने हमलावर रुख अख्तियार कर लिया है। पार्टी की तरफ से बुधवार शाम केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और सुधांशु चतुर्वेदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पंजाब की कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा। स्मृति ईरानी ने पीएम की सुरक्षा की चूक को लेकर कांग्रेस से तीन बड़े सवाल पूछे। उन्होंने कहा, सभी को पता है कि कांग्रेस मोदी से नफरत करती है, उन्हें ध्वस्त करना है तो चुनाव में करिए। लेकिन अगर देश के पीएम से आप नफरत करते हैं और उनके खिलाफ इस तरह की साजिश रचते हैं, तो इसे देश बर्दाश्त नहीं करेगा।

क्या बोलीं स्मृति ईरानी?

केंद्रीय मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "भारत के इतिहास में आज कांग्रेस के इरादे नाकाम रहे। जो लोग कांग्रेस में मोदी से नफरत करते हैं, वो आज देश के पीएम, उनकी सुरक्षा किस तरह से भंग किया जाए, उसके लिए प्रयास करते हैं। जो आक्रोश आप हममें और सुधांशु जी में देख रहे हैं, वो सिर्फ हमारे राजनीतिक संगठन तक सीमित नहीं है। हमने बार-बार कहा है कि नफरत कांग्रेस को मोदी से है, देश के पीएम से नफरत न करें।"कांग्रेस से भाजपा के तीन सवाल?

ईरानी ने आगे इस मसले पर तीन सवाल पूछे

सवाल-1: उन्होंने कहा, "कांग्रेस को आज जवाब देना होगा। पीएम किस रूप से एक स्थल पर पहुंचते हैं। उस पूरे रूट की सुरक्षा का प्रबंध और कोई भी गतिरोध नहीं है ऐसा आश्वासन पंजाब पुलिस से पीएम के सुरक्षा दस्ते को मिला। क्या जानबूझकर पीएम के सुरक्षा दस्ते को झूठ बोला गया?

सवाल-2: पीएम के पूरे काफिले को जब रोकने का प्रयास किया गया, 20 मिनट तक जब उनकी सुरक्षा भंग हुई, सुरक्षा भंग करने वाले आखिर पीएम की गाड़ियों के पास कैसे पहुंचे?

सवाल-3: पूरा भारत जानता है कि पीएम की मूवमेंट कहां हो रही है, ये साधारणतः जानकारी उपलब्ध नहीं होती। उस दौरान किसने प्रदर्शनकारियों को वहां भेजा, इसका जवाब कांग्रेस को देना होगा?पीएम के काफिले में सुरक्षा चूक को लेकर कांग्रेस मना रही थी जश्न'

भाजपा नेता ने कांग्रेस पर इस घटना को लेकर जश्न मनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, "कांग्रेस के लोगों ने खुशी का इजहार किया। आखिर किसी बात की खुशी है उन्हें कि पीएम को मौत की कगार पर ले गए जब सुरक्षाकर्मियों ने पंजाब सरकार से संपर्क साधने की कोशिश की, तो सीएम के दफ्तर से किसी ने संवाद नहीं किया। किस बात का इंतजार कर रही थी कांग्रेस की सरकार। शायद इसीलिए मीडिया में जो रिपोर्ट्स हैं कि लौटते वक्त पीएम ने चन्नी जी के लिए संदेश दिया है कि जिंदा लौट रहा हूं।"

उन्होंने कहा, "मैं आज कांग्रेस से पूछती हूं कि पीएम मोदी प्रधानमंत्री बने लोगों के आशीर्वाद से। उन्हें ध्वस्त करना है तो इलेक्शन में करिए। ऐसे साजिश रचने की क्या आवश्यकता है। वे लोग जो षड़यंत्र का हिस्सा हैं, उनसे मेरा सवाल- न्याय तो होगा, बैर मोदी से है लेकिन देश के प्रधानमंत्री का बाल बांका करने की कोशिश, इस कोशिश को देश समर्थन नहीं देगा।"

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it