Begin typing your search...

शादी के बाद दुल्हन के साथ फोटोग्राफी के समय दूल्हे को मारी गोली, बारात में मचा हड़कंप

शादी के बाद दुल्हन के साथ फोटोग्राफी के समय दूल्हे को मारी गोली, बारात में मचा हड़कंप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

भीमताल।शादी के बाद दूल्हन के साथ फोटोग्राफी करते वक्त किसी अज्ञात व्यक्ति ने दूल्हे को गोली मार दी। गनीमत रही कि गोली दूल्हे के बगल से निकली। घटना के बाद दूल्हा घायल हो गया जबकि बारात में हड़कंप मच गया है।

ओखलकांडा ब्लॉक के सुनकोट में सोमवार को दुल्हा के पीठ में अज्ञात व्यक्ति ने गोली मार दी दी। इससे दुल्हा घायल हो गया और उसे उपचार के लिए पाटी चम्पावत ले गये हैं। गोलीकांड के बाद बारात में अफरातफरी का माहौल हो गया। गोली किसने चलाई इसका पता नहीं चल सका।

घटना की सूचना राजस्व पुलिस व रेगूलर पुलिस को दी गई।जानकारी के अनुसार सोमवार को देवीधुरा निवासी दीवान सिंह के पुत्र विजय लमगड़िया की बारात सुनकोट निवासी राम सिंह के यहां आती थी। करीब एक बजे बारात लड़की के घर पहुंची। बारातियों का स्वागत हुआ। जयमाला समेत अन्य कार्यक्रम भी सम्पन्न हुए।

इसके बाद दुल्हा व दुल्हन फोटोग्राफी के लिए वहीं पास में गये हुए थे। इसी बीच करीब दो बजे दुल्हा के ऊपर गोली मारी। गोली दूल्हे के पीठ को छूते हुए निकली। इससे दुल्हा घायल हो गया। गोली की आवाज से बारात में अफरातफरी मच गई। गोली लगने के बाद दुल्हा करीब दो किमी दूर पैदल ही सड़क तक गया।

उसे पाटी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उसे हल्द्वानी के लिए भेज दिया गया। ग्राम प्रधान दिनेश बोरा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि गोली किसने चलाई इसका पता नहीं चल पाया है। घटना की सूचना राजस्व व रेगूलर पुलिस को दे दी है। गांव काफी दूर होने के चलते मुक्तेश्वर पुलिस समाचार लिखे जाने तक घटना स्थल तक नहीं पहुंच पाई थी।

दुल्हन के बगैर वापस लौटी देवीधुरा की बारात

देवीधुरा। देवीधुरा से नैनीताल जिले के सुनकोट गई बारात में दूल्हे को गोली मारने की सूचना के बाद परिजनों में हड़कंप मच गया। देर रात बगैर दुल्हन के बाराती मायूस होकर वापस घर लौट आए। दूल्हे के घर में ग्रामीणों के साथ ही रिश्तेदारों का जमावड़ा लग गया। अब स्थिति सामान्य होने के बाद ही दुल्हन के आने की संभावना जताई जा रही है।=

सोमवार को देवीधुरा ग्रामीण बैंक के समीप रहने वाले दीवान सिंह लमगड़िया के सबसे छोटे बेटे विजय लमगड़िया की बारात करीब 11 बजे सुनकोट के लिए रवाना हुई। शादी को लेकर दीवान सिंह के परिजनों के साथ पड़ोसी और रिश्तेदारों में खुशी का माहौल था। बारात में शामिल सभी लोग झूम रहे थे।

बारात रवाना होने के बाद दूल्हे के घर में महिलाएं रतेली की रस्म निभा रहीं थीं। दूल्हे की मां सावित्री देवी समेत तमाम रिश्तेदारों ने दिन का भोजन किया। जिनका भोजन करने के बाद बारात के स्वागत की तैयारियों में व्यस्त थे। इसी दौरान अपरान्ह चार बजे खुशी में झूम रहे परिजनों को दूल्हे को गोली मारने की सूचना मिली।

जिससे परिजनों में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद गांव में रंग में भंग पड़ गया। इसके कुछ घंटे बाद गोली लगने से घायल दूल्हे को पिता दीवान सिंह और अन्य लोगों ने पाटी अस्पताल पहुंचाया। पिता दीवान सिंह ने बताया कि जयमाला के दौरान अज्ञात शख्स दूल्हे पर गोली चलाकर फरार हो गया। पाटी अस्पताल में तैनात डॉ. सक्षम ने घायल दूल्हे का इलाज किया। उन्होंने बताया कि दूल्हे के पीठ में घाव का निशान है। डॉक्टर ने बताया कि दूल्हे की हालत स्थिर है

दूल्हे के शरीर में गोली की संभावना एक्स-रे करने के बाद पता चल सकेगी। उन्होंने बताया कि घायल दूल्हे को हल्द्वानी रेफर किया गया है। इधर, उपचार के लिए हल्द्वानी जा रहे घायल दूल्हे का वाहन देवीधुरा पहुंचते ही लोगों का जमावड़ा लग गया। दूल्हे के परिजनों और अन्य लोगों ने हालचाल जाना। इसके बाद घाायल दूल्हे को लेकर वाहन हल्द्वानी के लिए रवाना हो गया। देर रात बराती गए लोग बगैर दुल्हन के मायूस होकर घर लौटे।

करीब सौ लोग देवीधुरा से गए थे बाराती

देवीधुरा। जानकारी के मुताबिक देवीधुरा से दूल्हे के साथ नैनीताल के सुनकोट के लिए करीब सौ लोग बाराती गए थे। ये सभी बाराती चार छोटे और एक बड़े वाहन में सवार थे। बीते रविवार को देवीधुरा में महिला संगीत की रस्म गांव वालों और परिजनों ने खुशी से मनाई थी। बारात में शामिल किसी को शख्स को इस बात का जरा भी अंदेशा नहीं था कि कुछ घंटों बाद दूल्हे के साथ अनहोनी हो जाएगी।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it