Top
Begin typing your search...

25 हजार के जूते और 30 हजार की जैकेट पहनता है ये स्‍नैचर, लग्‍जरी लाइफस्‍टाइल जानकर पुलिस भी हैरान

25 हजार के जूते और 30 हजार की जैकेट पहनता है ये स्‍नैचर, लग्‍जरी लाइफस्‍टाइल जानकर पुलिस भी हैरान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

द‍िल्‍ली पुल‍िस (Delhi Police) के द्वारका जिला पुलिस के एंटी ऑटो थेफ्ट स्‍टॉफ (AATS) की टीम ने एक ऐसे स्नैचर को धर दबोचने में कामयाबी हास‍िल की है जोक‍ि एशो आराम के साथ लाइफ जी रहा है. इस स्‍नैचर के इतने जबर्दस्‍त ठाठ हैं क‍ि वो 25 हजार के जूते और 30 हजार की जैकेट पहनता है. इतना ही नहीं, उसकी गर्लफ्रैंड के तो और भी ठाठ हैं. वह मुंबई (Mumbai) की एक मॉडल बताई गई है.

बताया जाता है क‍ि जब वह आरोपी से म‍िलने के ल‍िए दिल्ली आती है तो वह उसके लिए बिजनेस क्लास की टिकट व ठहरने के लिए स्टार होटल में रूम बुक करता है. गिरफ्तार आरोपी अर्जुन उर्फ गोपू को राजस्थान पुलिस ने जोधपुर स्थित लूनी से अरेस्‍ट क‍िया है. आरोपी 100 से अधिक स्नैचिंग व लूट की वारदतों को अंजाम दे चुका है. इनमें से 50 से अधिक वारदातों को उसने प‍िछले तीन से चार माह में अंजाम द‍िया है. आरोपी गोपू पर द‍िल्ली के अलग थानों में झपटमारी, लूट, अवैध हथियार के 100 मामले दर्ज हैं. अर्जुन आदर्श नगर थाना का घोषित अपराधी भी है. यूपी के मुरादाबाद में इस पर गैंगस्टर एक्ट में मामला दर्ज है. अप्रैल महीने में ही आरोपी जमानत पर जेल से छूटा था और छूटते ही एक के बाद एक वारदात अंजाम देने लगा.

डीसीपी द्वारका संतोष कुमार मीणा ने बताया कि इलाके स्नैचिंग की वारदातों पर रोक लगाने के लिए पुलिस टीम लगातार बदमाशों का पता लगा रही थी. पुलिस ने इसके कई साथियों को गिरफ्तार भी किया था लेक‍िन यह आरोपी फरार चल रहा था. इसको पकड़ने के ल‍िए एएटीएस इंस्पेक्टर कमलेश कुमार के नेतृत्व में एस आई विकास, ए एस आई राकेश, रंधीर, हेड कांस्टेबल दिनेश, सोनू, जितेंद्र की टीम घटनास्थलों के नजदीक लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगालने में जुटी थी. फुटेज देखकर पुलिस को पता चला क‍ि झपटमारी की वारदात या तो रात आठ बजे से दस बजे के बीच या फिर सुबह के समय अंजाम दिए जा रहे हैं. छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला इन वारदातों के पीछे अर्जुन का हाथ है. लेकिन पुलिस के बचने के लिए वह दिल्ली से फरार हो गया था. टीम को उसके राजस्थान के जोधपुर इलाके में छिपे होने की जानकारी मिली.

इसके बाद पुलिस टीम जोधपुर पहुंची और वहां करीब तीन दिनों तक उसकी तलाश में लगी रही. आख‍िर पुलिस टीम ने अर्जुन का पता लगा लिया. पुलिस टीम ने जैसे ही अर्जुन को पकड़ने के लिए दबिश दी वह भागने लगा. बाजरे के खेत से गुजरते हुए पुलिस टीम ने आरोपी का करीब डेढ़ किलोमीटर पीछा किया और उसे दबोचने में कामयाब हो गई. बाकी साथि‍यों का पता लगाने में में पुल‍िस जुट गई है. वहीं, आरोपी से सोने की चेन खरीदने वाले विशाल नामक एक शख्स को भी गिरफ्तार कर ल‍िया गया है.



Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it