Begin typing your search...

पौली गोकशी कांड में सरगना प्रधान सहित दो गिरफ्तार

पौली गोकशी कांड में सरगना प्रधान सहित दो गिरफ्तार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फतेहपुर । पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह के निर्देशन में अपराध तथा अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत मुखबिर की सटीक सूचना पर पौली गाँव में पूर्व में हुई गौकशी कांड के गंभीर प्रकरण में एसएसआई प्रदीप यादव ने प्रधान व उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है।

बता दें कि खखरेरू थाना क्षेत्र के पौली में पुलिस की मिलीभगत से गोकशी को अंजाम दिया जा रहा था। मामला प्रकाश में आने पर थानाध्यक्ष सहित चार पुलिस कर्मियों पर कठोर कार्रवाई हुई जबकि गोकशी के आरोपियों को जेल की हवा खानी पड़ी।

इस मामले में एक ऑडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुई थी जिसमे पौली प्रधान व एक ब्यक्ति के बीच गोकशी के आरोपियों को रुपये लेकर बचाने की बातचीत हो रही थी जिसमे स्थानीय पुलिस की भी संलिप्तता सामने आई थी। ऑडियो में पुलिस विभाग की भी गाली गलौज की गई थी। वायरल ऑडियो पर एसपी ने जांच बैठाई थी।

ऑडियो वायरल होने के बाद से आरोपी फरार हो गए थे। तभी से पुलिस दोनो की तलाश में जुटी थी। जिसके क्रम में एसएसआई प्रदीप यादव ने नफीस अहमद (पौली प्रधान ) पुत्र अब्दुल वहीद निवासी कुंडलाधाम, पौली को नहर पुलिया पौली के पास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इसी कड़ी में नियाज अहमद पुत्र फकीर अहमद उम्र लगभग 42 वर्ष निवासी कबरे को एसआई जयप्रकाश सिंह तथा हमराही वेद मणि ओझा ने गश्त के दौरान कबरे मोरम डंप के पास से गिरफ्तार किया।

इस बाबत थानाध्यक्ष ने बताया की नियाज अहमद सन 2016 से वांछित चल रहा था दोनों वांछित अभियुक्तों को धारा 3/5/8 गोवध निवारण अधिनियम में मुकदमा पंजीकृत कर न्यायालय भेजा गया।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it