Top
Begin typing your search...

दो सगी बहिनों ने की मालगाड़ी के आगे कूदकर आत्महत्या, देखकर दहल गया दिल

दो सगी बहिनों ने की मालगाड़ी के आगे कूदकर आत्महत्या, देखकर दहल गया दिल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अजमेर। जिले के ब्यावर कस्बे में दो युवतियों ने ट्रेन के आगे छलांग लगाकर सामूहिक आत्महत्या कर ली. इस दर्दनाक घटना की जानकारी मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई. सुसाइड करने वाली दोनों युवतिया सगी बहनें थी.

बताया जा रहा है कि युवतियों ने पहले एक मालगाड़ी के आगे आकर सुसाइड करना चाहा, लेकिन ट्रेन चालक ने उनको देख लिया. उसने सूझबझ से काम लेते हुए ट्रेन को रोक दिया और युवतियों को ट्रैक से हटाकर पुलिस को सूचना दी. लेकिन पुलिस जब तक वहां पहुंचती इससे पहले ही युवतियों ने दूसरी मालगाड़ी के आगे छलांग लगा दी जिससे दोनों की मौक पर ही मौत हो गई. यह घटनाक्रम दिनभर सोशल मीडिया में चर्चा का विषय बना रहा.

जानकारी के अनुसार हादसा रविवार को गहलोत कॉलोनी रतनपुरा सरदारा रेलवे ट्रेक पर हुआ. वहां मालगाड़ी से कटने से दो युवतियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. पहली मालगाड़ी से बचने के बाद जब दूसरी मालगाड़ी आई तो वे फिर से रेलवे ट्रैक पर आ गईं. उस समय भी चालक द्वारा हॉर्न बजाने जाने पर पहले तो वे वहां से हट गईं, लेकिन जैसे ही ट्रेन पास आई तो उसके आगे कूद गईं. इसके बाद मौके पर क्षेत्र के लोगों की भीड़ जमा हो गई.

जीआरपी, आरपीएफ सिटी तथा सदर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना कर शवों को वहां से उठवाकर स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया. बाद में उनकी शिनाख्त करवाने के प्रयास किए . देर शाम को युवतियों की शिनाख्त मेवाड़ी गेट इलाके के स्वर्गीय छोटू गुर्जर की पुत्री अंजू (22) और निशा (19) के रूप में हुई. दोनों शादीशुदा थी. पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया कि मृतक बहनों के दो भाई हैं. एक भाई धर्मेन्द्र की शादी हो चुकी है और दूसरा भाई मनीष (10) है. दोनों की दो बड़ी बहनें शोभा व लल्लू की भी शादी हो चुकी है. एक छोटी बहन तारा (11) अविवाहित है.

अंजू की शादी ब्यावर के निकट शिवनाथपुरा निवासी राकेश गुर्जर के साथ हुई थी. करीब 11 माह पहले से उसका आठ माह का गर्भ गिर गया था. उसके बाद से वह पीहर में ही रह रही थी. ससुराल पक्ष की मानें तो कई बार उसे ले जाने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं आई. छोटी बहन निशा की भी शादी ब्यावर के निकट पीपलाज में हुई थी. वह वहां होने वाले कार्यक्रमों में तो जाती थी लेकिन अभी रहने के लिए ससुराल नहीं गई थी. रविवार सुबह दोनों बहनें घर से निकली थी. उसके बाद उनकी मौत की खबर ही सामने आई. आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है. पुलिस जांच-पड़ताल कर रही है.


Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it