Top
Begin typing your search...

विधायक का ट्रेन के अंदर अंडरगारमेंट्स में घूमने का वीडियो वायरल,यात्रियों से की बदसलूकी

विधायक की इस हरकत पर जब सहयात्री ने आपत्ति जताई तो आरोप है कि विधायक ने उन्हें देख लेने और गोली मारने की धमकी दी।

विधायक का ट्रेन के अंदर अंडरगारमेंट्स में घूमने का वीडियो वायरल,यात्रियों से की बदसलूकी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: जनता दल यूनाइटेड के विधायक नरेंद्र कुमार नीरज उर्फ गोपाल मंडल एक बार फिर सुर्खियों हैं। सोशल मीडिया पर उनकी एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमे वह ट्रेन के अंदर अंडरगारमेंट्स पहनकर घूमते नजर आ रहे हैं। विधायक की इस हरकत पर जब सहयात्री ने आपत्ति जताई तो आरोप है कि विधायक ने उन्हें देख लेने और गोली मारने की धमकी दी।

विधायक पर आरोप है कि उन्होंने यात्रियों के साथ अभद्र व्यवहार किया। जानकारी के अनुसार,गोपाल मंडल पटना-दिल्ली तेजस ट्रेन से यात्रा कर रहे थे। आरोप है कि ट्रेन के अंदर अंडरवियर और गंजी पहनकर घूमने पर जब यात्री ने उन्हें टोका तो उन्होंने उसके साथ गाली-गलौच की और गोली मारने की धमकी दी। सहयात्री प्रहलाद पासवान ने विधायक से कहा कि ट्रेन में महिलाएं भी हैं, आप जनप्रतिनिधि हैं, आप इस तरह नहीं कर सकते तो गुस्से में मंडल ने उन्हें देख लेने की धमकी दी।

आरोप है कि विरोध के बाद विधायक गुस्से में आ गए और सहयात्री को गाली देते हुए मारपीट करने पर उतारू हो गए। विधायक के साथ तीन लोग सफर कर रहे थे। यात्रियों के साथ कहासुनी होने पर साथ आए लोग उन्हें समझाने लगे। इसी बीच मौके पर पहुंचे टीटीई ने दोनों पक्षों को समझाकर मामला शांत करवाया। वहीं सहयात्री ने आरपीएफ से विधायक की शिकायत की, इसपर आरपीएफ ने उनका कोच बदल दिया।

वही,इस मामले में अब आरजेडी के विधायक तेजप्रताप यादव का कहना है कि नीतीश कुमार ये तस्वीर देख रहे हैं तो उन्हें पार्टी से तुरंत बाहर कर दें। मुख्यमंत्री को उनसे इस्तीफा मांग लेना चाहिए।

पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ ने कहा, 'जेडीयू विधायक गोपाल मंडल कल तेजस राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन में पटना से नई दिल्ली जाने के दौरान अंडरगारमेंट्स में घूमते हुए दिखाई दिए। साथी यात्रियों ने विधायक के व्यवहार की शिकायत की। आरपीएफ और टीटीई ने दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया।'




RUDRA PRATAP DUBEY
Next Story
Share it