Begin typing your search...

भारत का वो गांव जहां प्याज-लहसुन खाना है बैन, खरीद कर घर लाने पर भी है पाबंदी

भारत का वो गांव जहां प्याज-लहसुन खाना है बैन, खरीद कर घर लाने पर भी है पाबंदी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

भारत में अधिकांश घरों में बड़े चाव से प्याज-लहसुन (Benefits Of Ginger-Garlic) खाया जाता है. खाने का टेस्ट बढ़ाने में ये दो चीजें काफी अहम रोल प्ले करती है. ना सिर्फ इनसे खाने का टेस्ट बढ़ता है, बल्कि ये स्वास्थ्य के लिए भी काफी अच्छी मानी जाती हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत में एक ऐसा गांव है, जहां प्याज और लहसुन पर बैन लगा हुआ है.

हम बात कर रहे हैं बिहार के जहानाबाद जिले की, जहां के गांव त्रिलोकी बिगहा में प्याज (onion) और लहसुन (garlic) पूरी तरह वर्जित है। यहां के लोग प्याज और लहसुन न कभी खाते हैं और न ही खरीदते हैं।

जहानाबाद जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर इस गांव के लोग सात्विक हैं और सादा भोजन ही खाना पसंद करते हैं। त्रिलोकी बिगहा गांव के लोगों का कहना है कि उनके पूर्वज भी प्याज और लहसुन का सेवन नहीं करते थे और वे ये परंपरा तोड़ना नहीं चाहते हैं। गांव में प्याज लहसुन खाना तो मना ही है, साथ ही यहां बाहर से भी प्याज और लहसुन खरीदने पर भी प्रतिबंध है।

धार्मिक कारण भी है वजह – इस गांव के लोगों ने बताया कि प्याज-लहसुन ना खाने की उनकी खास वजह है. इस गांव में एक मंदिर है, जिसे ठाकुरबाड़ी कहते हैं. इसी मंदिर के देवताओं के श्राप की वजह से उन्हें प्याज-लहसुन नहीं खाना है. गांव में रहने वाली एक महिला के अनुसार कई सालों पहले एक परिवार ने इस परंपरा को तोड़ने की कोशिश की थी, इसके परिणाम स्वरुप उसके घर में कई अनहोनियां हो गई थी. तबसे यहां ऐसी गलती कोई नहीं करता.

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it