Begin typing your search...

यूपी के 1753 थानों पर प्रति थाना 15 सीसीटीवी कैमरे लगवायेगी योगी सरकार

एक्टिविस्ट उर्वशी शर्मा का आरटीआई खुलासा.

यूपी के 1753 थानों पर प्रति थाना 15 सीसीटीवी कैमरे लगवायेगी योगी सरकार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: के हिसाब से देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सूबे की जनता को एक और तोहफा देने की दिशा में कदम आगे बढ़ा दिया है. यह तोहफा है सूबे के सभी 1753 पुलिस थानों की कार्यप्रणाली को और अधिक पारदर्शी और जवाबदेह बनाकर आम जनता के मन से पुलिस थानों पर जाकर अपनी बात निःसंकोच कहने की हिचक से निजात दिलाने का जिसके लिए योगी सरकार ने यूपी के सभी 1753 थानों पर 18 माह की रिकॉर्डिंग सुविधा के साथ-साथ मय ऑडियो रिकॉर्डिंग वाले सीसीटीवी कैमरे लगवाने की योजना पर काम शुरू कर दिया है. इस बात का खुलासा राजधानी लखनऊ की तेजतर्रार समाजसेविका और नामचीन आरटीआई एक्टिविस्ट उर्वशी शर्मा की एक आरटीआई अर्जी पर सूबे के गृह विभाग द्वारा दी गई सूचना से हुआ है.

एक्टिविस्ट उर्वशी को बताया गया है कि इस काम के लिए 2 कंसलटेंट हायर किये गए हैं जो इस काम के लिए विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट और आर. एफ. पी. तैयार करने में लगे हैं.

बताते चलें कि एक्टिविस्ट उर्वशी की आरटीआई के बाद ही योगी सरकार ने इस सम्बन्ध में स्टेट लेवल ओवरसाइट कमेटी का गठन किया था जिसकी दो बैठकें बीती 08 जनवरी और 22 फरवरी को हो चुकी हैं जिनमें इस सम्बन्ध में अनेकों महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. उर्वशी को बताया गया है कि प्रति थाने 15 CCTV कैमरे लगवाये जाने हैं जिन पर लगभग 300 करोड़ रूपया खर्च आएगा जिसे 100 करोड़ प्रति वर्ष के हिसाब से बाँटकर 3 वर्षों में पूरा किया जाएगा.

इस योजना के क्रियान्वयन के लिए प्रत्येक जिले में डिस्ट्रिक्ट लेवल ओवरसाइट कमेटी का गठन करके इस कमेटी की बैठक प्रत्येक माह की 10 तारीख को कराये जाने की बात भी उर्वशी को बताई गई है.

सूबे की योगी सरकार के इस कदम को जनोन्मुखी और पुलिस थानों पर मानवाधिकार संरक्षण के लिए एक सार्थक पहल बताते हुए एक्टिविस्ट उर्वशी शर्मा ने सरकार को सार्वजनिक रूप से धन्यवाद ज्ञापित किया है और सरकार से अपेक्षा की है कि इस कार्ययोजना पर प्राथमिकता से काम करते हुए इसे निधारित समय में पूरा किया जाएगा.

Shiv Kumar Mishra
Next Story