Top
Begin typing your search...

दिनदहाड़े युवक की गला घोटकर हत्या

परिजनों ने लगाया आत्महत्या का आरोप चौकी इंचार्ज अलापने लगे परिजनों की भाषा

दिनदहाड़े युवक की गला घोटकर हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कौशांबी।*कोखराज थाना क्षेत्र के टेडीमोड चौकी अंतर्गत एक युवक की दिनदहाड़े गला घोट कर मुंह नाक दबाकर बेरहमी से हत्या कर उसे आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया गया है। युवक की हत्या में शामिल लोग दो दिन पहले पुलिस के साथ वार्तालाप करते देखे सुने गए हैं। लोगों का कहना है कि युवक की हत्या के पूर्व हत्या का ठेका चौकी पुलिस से हुआ है और ठेका लेने के बद पुलिस के सहयोग से युवक की हत्या की गई है। हत्या करने के बाद आत्महत्या किए जाने की कहानी का राग परिजनों के साथ चौकी इंचार्ज ने भी अलापना शुरू कर दिया है लेकिन किसी ने भी युवक को फंदे से लटकते नहीं देखा है। मौके पर स्टूल और डोरी नहीं मिली है। युवक के शरीर में चोट के निशान है। सूत्र बताते हैं कि नाक मुँह दबा कर गला घोंटकर युवक की हत्या की गई है।

जानकारी के मुताबिक कोखराज थाना क्षेत्र के अंतर्गत टेडीमोड पुलिस चौकी के टड़हर पर गांव निवासी जवाहर लाल पटेल उम्र 30 वर्ष पुत्र मिठाई लाल पटेल का अपनी पत्नी से विवाद चल रहा था। आए दिन पति - पत्नी के बीच विवाद होता था। दोनों का विवाद कई बार स्थानीय पुलिस चौकी तक भी पहुंचा लेकिन पुलिस ने मामले के निस्तारण में तेजी नहीं दिखाई। मंगलवार को दिन दहाड़े युवक के घर में कुछ बाहरी लोग आए ग्रामीणों ने घर के भीतर हो हल्ला झगड़ा भी सुना है। ग्रामीणों की माने तो जवाहरलाल मदद की गुहार लगा रहा था। ग्रामीणों को आशंका है कि युवक की हत्या कर दी गई है।

परिजनों ने हो हल्ला मचाना शुरू कर दिया कि युवक ने आत्महत्या कर लिया है। मामले की जानकारी मिलते ही चौकी इंचार्ज टेडीमोड मौके पर पहुंचे और परिजनों के आत्महत्या के बयान पर तमाम साक्ष्य को नजरअंदाज कर चौकी इंचार्ज भी युवक के आत्महत्या करने का राग अलापने लगे हैं। युवक की लाश को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अब सवाल उठता है कि मौके पर हत्या के तमाम साक्ष्य मौजूद होने के बाद चौकी इंचार्ज ने उसे आत्महत्या कहकर क्यों हत्या के मामले को दबाने का प्रयास किया है। सूत्र बताते हैं कि दो दिन पहले पुलिस से इस घटना में शामिल लोगों की वार्ता भी हुई है। युवक की हत्या की कही सौदेबाजी तो पहले से नही हो गयी है।

चौकी इंचार्ज नित्यानंद सिंह के कार्यकाल में इस क्षेत्र में कई लोगों की हत्याएं हो चुकी है। किसी मामले का चौकी इंचार्ज ने खुलासा नहीं किया है। हत्या के मामले को आत्महत्या और दुर्घटना बताकर चौकी इंचार्ज नित्यानंद सिंह ने हत्यारों को बचाने में महारत हासिल है। इनके पूर्व के चौकी इंचार्ज के कार्यकाल में भी टेडीमोड चौकी क्षेत्र में कई लोगों की हत्याएं हो चुकी है लेकिन किसी भी मामले का खुलासा नहीं हो सका है। इलाके के लोगों ने आला अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुए पुलिस चौकी टेडीमोड क्षेत्र में कई हत्याओं के मामले की फिर से जांच कराए जाने और संपूर्ण मामले की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को नजर अंदाज कर विवेचना के मामले को गंभीरता से लेते हुए सच्चाई उजागर कर दोषी चौकी इंचार्ज पर कठोर कार्रवाई करने की मांग की है।

मौके पर नहीं मिली रस्सी

कौशांबी।*टेडीमोड पुलिस चौकी क्षेत्र में जवाहरलाल की हत्या को आत्महत्या बता कर इस हत्याकांड के आरोपियों को बचाने का प्रयास करने वाले चौकी इंचार्ज को घटनास्थल से रस्सी नहीं मिली है। जब मौके पर ग्रामीण पहुंचे हैं तो लाश कमरे के अंदर रक्खी थी। बिना रस्सी के कैसे युवक ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया है। मौके पर कोई स्टूल भी नहीं मिला है। युवक की जीभ भी बाहर नहीं निकली है इस गंभीर बिंदु पर चौकी इंचार्ज का नजरअंदाज करना या तो उनकी संलिप्तता की ओर इशारा कर रहा है या फिर उन्हें घटनाओं के खुलासे का ज्ञान नहीं है। दोनों मामले में उन्हें निलम्बन का रास्ता दिखाया जाना और दूसरे चौकी इंचार्ज से संपूर्ण प्रकरण की जांच कराया जाना आवश्यक होगा।

एसपी ने किया स्थानांतरण नहीं छोड़ सके पुलिस चौकी

कौशांबी।*टेढ़ी मोड़ पुलिस चौकी में तैनात नित्यानंद सिंह को पुलिस अधीक्षक ने नारा पुलिस चौकी स्थानांतरण कर दिया है लेकिन एसपी के स्थानांतरण आदेश को कई दिन बीत जाने के बाद भी नित्यानंद सिंह टेडीमोड पुलिस चौकी से नारा पुलिस चौकी नहीं पहुंच सके हैं। आखिर इन्हें टेढ़ी मोड़ पुलिस चौकी से क्या लगाव है जिसके चलते उन्होंने आला अधिकारियों के आदेशों का पालन नहीं किया है। तमाम हत्या के खुलासे में फिसड्डी टेडी मोड़ चौकी इंचार्ज नित्यानंद सिंह को निलंबित कर इनके कार्यकाल की घटनाओं की पुनः जांच कराए जाने की लोगों ने मांग की है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it