Begin typing your search...

बरेली मुरादाबाद नेशनल हाईवे पर एक मिनी बाईपास का होगा निर्माण, जिससे उत्तराखंड की राह और होगी आसान

बरेली मुरादाबाद नेशनल हाईवे पर एक मिनी बाईपास का होगा निर्माण,  जिससे उत्तराखंड की राह और होगी आसान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मुरादाबाद में यातायात और सुगम बनाया जाएगा। बरेली मुरादाबाद नेशनल हाईवे पर एक मिनी बाईपास बनेगा जिससे उत्तराखंड के लिए सफर आसान होगा। रामपुर के बाहर से ही लोग सीधे बिलासपुर पहुंच जाएंगे। मिनी बाईपास से उत्तराखंड की राह और आसान होगी। मुरादाबाद से रामपुर जिले के बिलासपुर मार्ग को जोड़ने वाले मिनी बाईपास का निर्माण जल्द शुरू होगा।

भूमि अधिग्रहण के बाद किसानों को मुआवजे की रकम वितरण का सिलसिला तेज हो गया है। करीब तीस करोड़ रुपए की जमीन किसानों से ली गई है। इसमें करीब ग्यारह करोड़ रुपए का वितरण भी एलएसओ की ओर से किया जा चुका है। मुरादाबाद और रामपुर जो जिलों से होकर गुजरने वाले इस मिनी बाईपास से उत्तराखंड की कनेक्टिविटी बेहतर होगी। रामपुर में प्रवेश किए बिना मुरादाबाद की ओर से जाने वाले लोग सीधे बिलासपुर मार्ग पर पहुंच जाएंगे।

मुरादाबाद बरेली राजमार्ग पर सहरिया गांव के पास से यह मिनी बाईपास निकाला जा रहा है। मुरादाबाद जिले में पांच किमी और रामपुर जिले में बाईपास की लंबाई करीब 10 किमी होगी। इससे समय की भी बचत होगी और जाम भी नहीं लगेगा। इससे बिलासपुर मार्ग पर सीधे पहुंच कर लोग उत्तराखंड के किसी भी क्षेत्र में आवागमन कर सकेंगे।

बिलासपुर की ओर से आने वाले लोग दिल्ली को तरफ यात्रा आसानी से कर सकेंगे। मुरादाबाद के पांच गांवों की किसानों की जमीन इस मिनी बाईपास के लिए ली गई है। एसएलओ महेंद्रपाल सिंह ने बताया कि किसानों को मुआवजे की रकम वितरण का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है जिससे आगे का काम जल्द पूरा करवाया जा सके। इन गांवों से होकर गुजरेगा बाईपास सहरिया , बरबारा मुस्तकम, मझरा, खबड़िया भूड़, गनेशघाट, हजरतपुर, डूंगरपुर, ठोठर, अजयपुर, कोयला, कोयली गांव आदि की जमीन ली गई।

Desk Editor
Next Story
Share it