Begin typing your search...

आगरा के फतेहाबाद से भाजपा विधायक छोटे लाल वर्मा व बेटे लक्ष्मीकांत वर्मा के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज जानिए क्या है पूरा मामला

आगरा के फतेहाबाद से भाजपा विधायक छोटे लाल वर्मा व बेटे लक्ष्मीकांत वर्मा के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज जानिए क्या है पूरा मामला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले के फतेहाबाद से भाजपा विधायक छोटे लाल वर्मा और उनके बेटे लक्ष्मीकांत वर्मा के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. विधायक छोटे लाल वर्मा के बेटे लक्ष्मीकांत की कथित पहली पत्नी ने थाना ताजगंज में केस दर्ज कराया है. पीड़िता ने छोटे लाल वर्मा और उनके बेटे लक्ष्मीकांत के खिलाफ पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने पिता-पुत्र के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 बलात्कार, 313 गर्भपात कराना, 323 मारपीट, 504 गाली गलौज, 506 जान से मारने की धमकी देना, 494 एक पत्नी के जीवित रहते दूसरी शादी करना और 328 जहर या नशीला पदार्थ खिलाने का मुकदमा दर्ज किया है. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि जब वह 17 वर्ष की थी, तो विधायक की बेटी के साथ उसकी दोस्ती थी. वह विधायक के घर उनकी बेटी से मिलने जाती थी. विधायक की बेटी ने उसका परिचय अपने भाई लक्ष्मीकांत से कराया था. पीड़िता का आरोप है कि वर्ष 2003 में लक्ष्मीकांत ने उसे अपने घर पर बुलाया.

कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ देकर बेहोश कर दिया. उसके साथ बलपूर्वक दुष्कर्म किया और इसका वीडियो बना लिया. उसको लंबे समय तक शादी का झांसा देकर ब्लैकमेल करता रहा. पीड़िता का आरोप है कि इस पूरे कृत्य में भाजपा विधायक छोटे लाल वर्मा ने अपने बेटे का साथ दिया. पीड़िता का आरोप है कि लक्ष्मीकांत ने उसे कई बार मारा पीटा. उसका जबरन गर्भपात कराया. लक्ष्मीकांत ने उससे मंदिर में सात फेरे लेकर शादी की थी. मगर, 2006 में लक्ष्मीकांत ने दूसरी महिला से शादी कर ली.

इसके बाद भी लक्ष्मीकांत उसका उत्पीड़न करता रहा. बंदूक दिखाकर उसे और उसकी बेटे और बेटी को जान से मारने की धमकी देने लगा. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि लक्ष्मीकांत ने उससे जबरन तलाक के पेपर पर साइन करा लिए. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले की जांच को आगे बढ़ा रही है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जांच कर दोषी के खिलाफ विधिक कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

भाजपा विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद विपक्षी दल सवाल उठा रहे हैं. सरकार को घेर रहे हैं. विधायक और उनके बेटे की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. इस संबंध में विधायक छोटे लाल वर्मा का पक्ष जानने के लिए उनसे संपर्क करने की कोशिश की गई, उनका मोबाइल फोन स्विच ऑफ आ रहा है. वॉट्सऐप पर भेजे गए मैसेज में कोई जवाब नहीं आया है.

छोटे लाल वर्मा पूर्व में फतेहाबाद विधानसभा सीट से बसपा से विधायक रह चुके हैं. हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनाव से ठीक पहले छोटे लाल वर्मा ने भाजपा की सदस्यता ली थी. भाजपा ने उन्हें फतेहाबाद विधानसभा सीट से टिकट दी,

जहां से वह इस बार विधायक चुने गए हैं. उन्होंने अपने सियासी सफर की शुरुआत भी भाजपा से ही की थी और फतेहाबाद विधानसभा सीट से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़कर विधायक बने थे. राजनीति की हवाएं बदलने के बाद छोटे लाल वर्मा ने बसपा का दामन थाम लिया था

Desk Editor
Next Story
Share it