Begin typing your search...

प्रभारी कुलपति ने जस्टिस अरुण टंडन की अध्यक्षता में जांच समिति का किया गठन, इन तारीखों को समिति को दे सकते हैं सबूत

प्रभारी कुलपति ने जस्टिस अरुण टंडन की अध्यक्षता में जांच समिति का  किया गठन, इन तारीखों को समिति को दे सकते हैं सबूत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

शशांक मिश्र

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति का प्रभार संभाल रहे प्रोफेसर के एस मिश्रा ने आज इलाहाबाद हाई कोर्ट से अवकाश प्राप्त न्यायमूर्ति अरुण टंडन की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय जांच कमेटी का गठन कर दिया। यह जांच कमेटी हाल के दिनों में हुए विवाद की गहराई से जांच करेगी।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया में एक व्हाट्सएप चैट और ऑडियो क्लिप को लेकर विश्वविद्यालय में लगातार तनावपूर्ण माहौल बना हुआ है। कार्यवाहक कुलपति प्रो. के एस मिश्रा ने आज इस जाँच कमिटी का गठन किया। विश्वविद्यालय की तरफ से अवकाश प्राप्त न्यायमूर्ति अरुण टंडन को इस आशय का एक पत्र भेजा गया है। न्यायमूर्ति अरुण टंडन की इस उच्च स्तरीय जांच कमेटी के नोडल ऑफीसर दिनेश गोस्वामी बनाए गए हैं। जिन भी लोगों के पास इस प्रकरण से जुड़े हुए दस्तावेज हैं वे दिनांक 24 से 26 सितंबर तक 11:00 बजे से 2:00 बजे के बीच विश्वविद्यालय अतिथि गृह में आकर संबंधित सामग्री दे सकते हैं।

विश्विद्यालय प्रशासन ने आम छात्रों से अपील की जाती है कि वे कोई धरना प्रदर्शन नहीं करेंगे। उधर विश्वविद्यालय के कुलपति रतनलाल ने कहा कि 'जब तक यह जांच चलेगी वे कुलपति कार्यालय में प्रवेश नहीं करेंगे तथा अवकाश पर रहेंगे।'

Special Coverage News
Next Story
Share it