Top
Begin typing your search...

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का बड़ा ऐलान

त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव के लिए रिजर्वेशन की स्थित 15 फरवरी तक स्‍पष्‍ट हो जाएगी.

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का बड़ा ऐलान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि पार्टी उत्तर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव अकेले अपने दम पर लड़ेगी. भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि, पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के मद्देनजर पार्टी अकेले दम पर चुनाव लड़ेगी. वह किसी की भी मदद नहीं लेगी. चंद्रशेखर ने कहा कि पार्टी पंचायत चुनाव में अपनी पूरी ताकत के साथ उतरेगी. पंचायत चुनाव की तैयारी भी जोरों पर चल रही है. उन्होंने पंचायत चुनाव में अधिकतम सीटें जीतने का दावा किया है.

उन्होंने कहा, "किसान कृषि कानून को वापस कराने के लिए बॉर्डर पर डटे हुए हैं. वे कड़ाके की सर्दी में भी सहन कर रहे हैं और अपना खेती का काम भी नहीं कर पा रहे हैं. लेकिन सरकार कानून को वापस लेने के लिए तैयार नहीं हो रही है. सरकार को कानून वापस लेकर किसानों की मदद करनी चाहिए."

'यूपी में गरीब का रहना बद से बदतर'

चंद्रशेखर ने कहा, "यूपी में गरीब का रहना बद से बदतर हो गया है. बहुजन समाज का एक बड़ा हिस्सा किसान हैं जो पिछले 2 माह से खुले आसमान के नीचे आंदोलनरत है, बावजूद इसके प्रधानमंत्री या भाजपा का कोई बड़ा नेता किसानों का हाल-चाल जानने नहीं गया."

'BJP अपनी पार्टी के सिंबल पर नहीं लड़ेगी'

दूसरी तरफ, उत्तर प्रदेश के संसदीय और ग्रामीण विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने शनिवार को कहा कि त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव के लिए रिजर्वेशन की स्थित 15 फरवरी तक स्‍पष्‍ट हो जाएगी. यहां स्थित भारतीय जनता पार्टी जिला कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान राज्‍य मंत्री ने कहा कि भाजपा पंचायत चुनाव पार्टी के चुनाव चिह्न पर नहीं लडे़गी, बल्कि पार्टी के समर्थित उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में होंगे.

'चुनाव अधिनियम में संशोधन को लेकर विचार-विमर्श नहीं'

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा पंचायत चुनाव अधिनियम में संशोधन को लेकर कोई विचार-विमर्श नहीं चल रहा है. उन्‍होंने कहा कि ग्रामीण विकास के लिए सरकार मुख्‍य रूप से प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना, मनरेगा और राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन को प्राथमिकता दे रही है. आनंद शुक्ला सुलतानपुर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर BJP के आयोजित पराक्रम दिवस में हिस्सा लेने पहुंचे थे.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it