Begin typing your search...

बागपत में महिला, 2 बेटियों के जहर खाने के मामले में NHRC ने यूपी के मुख्य सचिव, DGP को नोटिस, चार सप्ताह में मांगा जवाब

NHRC ने चार सप्ताह में जवाब मांगा है।

बागपत में महिला, 2 बेटियों के जहर खाने के मामले में NHRC ने यूपी के मुख्य सचिव, DGP को नोटिस, चार सप्ताह में मांगा जवाब
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के जिले बागपत में महिला और उसकी 2 बेटियों के जहर खाने के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने यूपी के मुख्य सचिव और DGP को नोटिस भेजा है। NHRC ने चार सप्ताह में जवाब मांगा है।

क्या था पूरा मामला

दरअसल, बागपत में पिछले कुछ दिनों पहले मां समेत दो बेटियों ने जहर खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया था। ऐसा इसलिए क्योंकि उसका बेटा गांव की ही युवती के साथ भाग गया था। जिसके बाद लड़की के परिजनों की तहरीर के बाद पुलिस ने दबिश दी। इसी दौरान महिला व उसकी दो बेटियों ने डर की वजह से जहर निगल लिया था। तीनों के जहर खाने के बाद मौत होने पर दरोगा पर गाज गिर गई है। एसपी ने दरोगा को निलंबित कर दिया है। साथ ही एसपी ने जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

उपचार के दौरान मां और बेटी की हुई मौत

एसआईटी टीम में जांच करने के लिए महिला इंस्पेक्टर समेत दो इंस्पेक्टर एसआईटी में शामिल किया। एएसपी की देख रेख में ही जांच होगी। दरअसल बागपत के छपरौली के गांव बाछौड़ में पुलिस की अभद्रता से आहत होकर महिला गीता और उसकी बेटी प्रीति की बुधवार रात मेरठ में उपचार के दौरान मौत हो गई। वहीं दूसरी बेटी स्वाति ने दो दिन यानी उसी दिन दम तोड़ दिया था। पुलिस की दबिश के बाद परिवार के तीन सदस्यों की मौत से गुस्साए ग्रामीणों और परिजनों ने गुरुवार की शाम मां-बेटी के शव गांव में पहुंचने पर जाम लगा दिया।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it