Begin typing your search...

प्रेमी प्रेमिका से करने लगा बेबफाई, तो युवती पहुंची थाने पुलिस ने काजी को बुलाकर निकाह कराया और पुलिस ने नवदंपत्ति को उपहार भेंटकर दी बिदाई

प्रेमी प्रेमिका से करने लगा बेबफाई, तो युवती पहुंची थाने पुलिस ने काजी को बुलाकर निकाह कराया और पुलिस ने नवदंपत्ति को उपहार भेंटकर दी बिदाई
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के जिले बहराइच में एक प्रेमी प्रेमिका से शादी के वादे से मुकर गया तो युवती ने बना किसी के डरे सीधे थाने पहुंच गए। इस पूरे मामले को सुनकर पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने में बुलाकर तलब कर दिया। जिसके बाद प्रेमी शादी के लिए तैयार हो गया लेकिन प्रेमिका को उसकी बातों पर विश्वास नहीं हुआ इसलिए पुलिस ने तुरंत काजी को बुलवाया और निकाह करवा दिया।

इसके बाद दोनों हंसी खुशी थाने से घर की ओर निकल गए। कुछ महीने पहले युवक युवती की हुई थी मुलाकात जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के कैंसरगंज थाना क्षेत्र के मरोठी गांव का है। इस गांव के रहने वाले मोहम्मद निशार ने बौंडी थाने पर तहरीर देकर बताया कि उसकी बेटी शहनाज व बाराबंकी जिले के थाना महमदपुर के पांडेयपुरवा गांव के रहने वाले सलाहुद्दीन की कुछ महीने पहले बौंडी थाना क्षेत्र के नंदवल गांव में एक रिश्तेदारी में मुलाकात हुई थी।

दोनों की मुलाकात के बाद एक-दूसरे से प्रेम हो गया। जिसके बाद सलाहुद्दीन ने शहनाज से न‍िकाह का वादा कर लिया। तहरीर के बाद पुलिस ने दोनों परिवारों के बीच कराई बात जब निकाह का मौका आया तो प्रेमी सलाहुद्दीन अपनी ही बात से मुकर गया। शहनाज ने पूरी बात अपने पिता से बताई। जिसके बाद पिता ने बौंडी पुलिस को तहरीर दी। उसके बाद पुलिस ने दोनों पक्षों को तलब किया।

दोनों परिवार के बीच बातचीत में एक बार फिर प्रेमी सलाहुद्दीन ने शादी का वादा किया, लेकिन इस बार शहनाज को उसकी बात पर भरोसा नहीं था। इस पर पुलिस ने तुरंत काजी को बुलवाया और थाने में ही दोनों के स्वजनों व रिश्तेदारों के मध्य निकाह की रस्म पूरी करवाई। दरोगा व सिपाहियों ने नवदंपति को उपहार किया भेंट थाने में हुई शादी के बाद दरोगा और सिपाहियों ने नवदंपति को उपहार भेंट किया।

महिलाओं ने मंगल गीत भी गाए। नवदंपति हंसी खुशी के साथ थाने में जीने मरने की कसमें खाकर घर की ओर रवाना हुए। इस मामले में एसओ गणनाथ प्रसाद ने बताया कि दो दिलों को मिलाने व परिवार को जोड़ना हमारा कर्तव्य है। प्रेमी-प्रेमिका के निकाह की गवाही आरक्षी अब्दलु शाकिर, एसआई विकास शर्मा, अजय साहू, रामेंद्र, शिव सागर, राकेश, महिला आरक्षी सायरा बानो, अर्चना, शशि पांडेय निकाह की गवाह रही।

Desk Editor
Next Story
Share it