Top
Begin typing your search...

जीत के साथ ही बलिया में सपा के जिला पंचायत अध्यक्ष पर मुकदमा दर्ज

बलिया में कुल 58 जिला पंचायत सदस्य अध्यक्ष में से भाजपा के11, सपा के 10, बसपा के 10, सुभाषपा के 09, कांग्रेस के 3, निर्दलीय 14 सदस्य शामिल हैं।

जीत के साथ ही बलिया में सपा के जिला पंचायत अध्यक्ष पर मुकदमा दर्ज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलिया। शुरुआती दिनों से ही चर्चा के केंद्र में रहे जिला पंचायत के अध्यक्ष का चुनाव शनिवार को सुर्खियां बटोरता रहा। वही जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भाजपा की आगे कोई भी पार्टी टिक नही सकी और 75 में से 67 में जीत दर्ज की तो वही सपा पांच सीटों पर जीत सकी लेकिन चुनाव परिणाम आने के बाद बलिया के सपा कार्यालय पर नारेबाजी का वीडियो वायरल हुआ जिसमें अभद्र भाषा का प्रयोग करने के आरोप में पुलिस ने रविवार को मुकदमा दर्ज किया।

मंत्री उपेन्द्र तिवारी के भतीजा अश्विनी की तहरीर पर पुलिस ने नव निर्वाचित जिला पंचायत अध्यक्ष आनंद चौधरी, उनके पिता व पूर्व मंत्री अम्बिका चौधरी व जिपं के पूर्व सदस्य अमित यादव समेत दस नामजद व सैकड़ों अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इससे पहले दिन में भाजपा नेताओं ने एसपी से मिलकर कार्रवाई की मांग की थी।

तहरीर में मंत्री के भतीजा ने लिखा है कि शनिवार की शाम पांच बजे शहर से अपने निजी आवास की ओर सपरिवार जा रहा था। टाउन इंका के चौराहा के पास जिपं के विजयी प्रत्याशी आनंद चौधरी, उनके पिता पूर्व मंत्री अम्बिका चौधरी कार्यकर्ताओं के साथ विजय जश्न में शामिल थे। उनके साथ हजारों की भीड़ लाठी-डंडे से लैस थी। लिखा है कि जुलूस में कई लोग नशे में धुत थे। भतीजा के अनुसार मुझे देखकर वे लोग नव निर्वाचित अध्यक्ष व पूर्व मंत्री का इशारा पाकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के साथ ही मेरे चाचा व प्रदेश सरकार के मंत्री उपेन्द्र तिवारी समेत परिवार की महिलाओं के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करते हुए नारेबाजी की। यही नहीं, गाड़ी पर हाथ पीटने लगे, जिससे मेरा पूरा परिवार भयभीत हो गया। हम किसी प्रकार जान बचाकर भागे।

अश्विनी ने वीडियो फुटेज के आधार पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की। तहरीर के आधार पर पुलिस ने आनंद चौधरी व अम्बिका चौधरी के अलावा राजेन्द्र यादव, रमेश यादव उर्फ शराबी, शिवपाल यादव, अमित यादव पूर्व जिपं सदस्य, दिनेश यादव, प्रेमप्रकाश यादव, विकास ओझा व राजमंगल यादव तथा सैकड़ों अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इनके खिलाफ धारा 147, 148, 149, 342, 500, 504 व 506 के तहत कार्रवाई की गयी है।

बलिया में कुल 58 जिला पंचायत सदस्य अध्यक्ष में से भाजपा के11, सपा के 10, बसपा के 10, सुभाषपा के 09, कांग्रेस के 3, निर्दलीय 14 सदस्य शामिल हैं। चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सुप्रिया चौधरी और सपा प्रत्याशी आनंद चौधरी के बीच सीधी टक्कर थी लेकिन सपा के आनंद चौधरी को 33, सुप्रिया यादव भाजपा 24 मत मिले। बलिया में आजादी के बाद से ही जिला परिषद एवं जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट पर भाजपा का कोई प्रत्याशी चुनाव नहीं जीत सका है।



सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it