Top
Begin typing your search...

25 हजार का इनामी मुख्तार का करीबी शोएब को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें क्या है मामला

31 मार्च को मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल से पेशी पर ले जाते समय बाराबंकी से पंजीकृत एम्बुलेंस का प्रयोग किया गया था। इस पर बाराबंकी में एम्बुलेंस का पंजीकरण चेक किया गया तो फर्जी पते पर दर्ज पाया गया।

25 हजार का इनामी मुख्तार का करीबी शोएब को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें क्या है मामला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी। मुख्तार अंसारी एंबुलेंस पंजीकरण प्रकरण में फरार 25 हजार के इनामी नामजद आरोपी मोहम्मद शोएब मुजाहिद को बाराबंकी कोतवाली पुलिस ने जैदपुर बाईपास के पास से गिरफ्तार किया। पूरे मामले में अब तक पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। इसमें मऊ जिले के श्याम संजीवनी अस्पताल की संचालिका डाॅ.अलका राय,उनके पति एसएन राय व राजनाथ यादव, आनंद यादव आदि के साथ मुख्तार अंसारी को भी नामजद किया गया है। पुलिस ने इस मामले में अब तक डा. अलका राय समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। पुलिस ने इस मामले में फरार नामजद मोहम्मद शोएब मुजाहिद पर 25 हजार का ईनाम घोषित किया था।

बतादें बीते 31 मार्च को मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल से पेशी पर ले जाते समय बाराबंकी से पंजीकृत एम्बुलेंस का प्रयोग किया गया था। इस पर बाराबंकी में एम्बुलेंस का पंजीकरण चेक किया गया तो फर्जी पते पर दर्ज पाया गया। यह भी पाया गया था कि पंजीकृत एम्बुलेंस का फिटनेस सात सालों से नहीं कराया गया है। इस पर कोतवाली नगर में एआरटीओ प्रशासन द्वारा धोखाधड़ी की धारा में मुकदमा दो अप्रैल को दर्ज कराया गया था।

ये पहले हो चुके हैं गिरफ्तार

इस मामले में अब तक डा.अल्का राय, राजनाथ यादव, आनन्द यादव, शेषनाथ राय व मुख्तार के ड्राइवर सलीम को पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। ड्राइवर सलीम को कल एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था। एसटीएफ की टीम की पूछताछ में सलीम ने मुख्तार से करीबी होने का खुलासा किया साथ ही लंबे समय से उसके गिरोह का हिस्सा होने की बात भी स्वीकारी। पुलिस की ओर से बाराबंकी में दर्ज केस में मुख्तार के ड्राइवर सलीम, सुरेंद्र के साथ उसके खास गुर्गे अफरोज समेत 10 लोग नामजद हैं। इसमें सलीम व सुरेंद्र ही मुख्तार की गाड़ी चलाते थे।

सलीम मुख्तार अंसारी गैंग का सक्रिय सदस्य है और एम्बुलेंस का ड्राइवर भी था सलीम को मंगलवार शाम वाराणसी की एसटीएफ टीम ने लखनऊ में पायनियर स्कूल के पास थाना क्षेत्र जानकीपुरम से कार्रवाई के दौरान गिरफ्तार किया। एसटीएफ की पूछताछ में सलीम ने बताया कि वह लगभग 20 वर्षों से मुख्तार अंसारी के साथ जुड़ा है। इससे पहले मुख्तार अंसारी के चचेरे ससुर एवं नन्द किशोर रूंगटा अपहरण में वांछित अताउर्रहमान उर्फ बाबू की कार चलाता था। मेरे अलावा फिरोज, सुरेन्द्र शर्मा तथा रमेश भी मुख्तार के चालक हैं। मुख्तार अंसारी गिरोह के ड्राइवर सलीम पर भी पुलिस ने 25 हजार का इनाम भी घोषित किया था।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it