Begin typing your search...

स्‍वाति सिंह का कथित ऑडियो वायरल, पति दयाशंकर सिंह पर लगाया गंभीर आरोप

स्‍वाति सिंह का कथित ऑडियो वायरल, पति दयाशंकर सिंह पर लगाया गंभीर आरोप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ। योगी सरकार में महिला और बाल विकास मंत्री स्वाति‍ सिंह एक बार फिर ​अपने कथित ऑडियो रिकॉर्डिंग वायरल होने की वजह से सुर्खियों में हैं। इस ऑडियो में स्‍वाति सिंह एक व्यक्ति से बात करते हुए अपनी पीड़ा भी बता रही हैं।

इस बातचीत में स्‍वाति सिंह अपने पति दयाशंकर सिंह पर मारपीट और प्रताड़ित करने का गंभीर आरोप लगा रही हैं। हालांकि स्पेशल कवरेज न्यूज इस कथित ऑडियो रिकॉर्डिंग की पुष्टि नहीं करता है।

वायरल ऑडियो में स्वाति‍ सिंह कहती हैं कि वह इतना ही नहीं वे उनसे किस कदर डरती हैं, इसका अंदाजा भी ऑडियो को सुन कर लगाया जा सकता है। स्वाति‍ सिंह कहती हैं कि हमारी और आपकी बातचीत का पता दयाशंकर सिंह और उनके भाई को नहीं चलना चाहिए। उन्हें पता चलेगा तो क्या होगा आप समझ सकते हैं। हालांकि, मंत्री स्वाति‍ सिंह पीड़ित को इंसाफ दिलाने की बात भी कह रही हैं।

स्वाति‍ सिंह पीड़ित से सभी कागज मांग रहीं हैं। वहीं किसी को न पता चले ये बात भी कह रहीं हैं। इस ऑडियो में बार-बार स्वाति‍ सिंह यही कह रहीं हैं कि ये बात किसी भी तरह से उनके पति दयाशंकर सिंह और उनके परिवार में किसी को न पता चले वरना ये लोग प्रताड़ना की सारी हदें पार कर देंगे। ऑडियो के मुताबिक दयाशंकर किसी अवस्थी के मकान (फ्लैट) पर जबरन कब्जा करते हैं, पुलिस भी उनकी मदद करती है। पीड़ित की सुनवाई नही होती और दूसरा सच यह है कि खुद मंत्री भी अपने पति के हाथों मजबूर हैं, वो उनके साथ मारपीट भी करते हैं।

बता दें कि नवंबर 2019 को भी कथित तौर पर स्वाति‍ सिंह के एक ऑडियो वायरल हुआ था। इसमें वो लखनऊ कैंट सीओ बीनू सिंह को कथित तौर पर धमकी दे रही थी। दरअसल, धोखाधड़ी और ठगी के मामले में अंसल ग्रुप के खिलाफ जांच चल रही थी। अंसल ग्रुप के खिलाफ एक नई एफआईआर दर्ज की गई थी। ऑडियो में कथित तौर पर मंत्री स्वाति‍ सिंह सीधे तौर पर सीओ बीनू सिंह को एफआईआर खत्म करने की हिदायत दे रही थी। उन्होंने कहा था कि, सब फर्जी है, खत्म करिए उसको। चार दिन हुए आपको आए, कौन सी जांच कर रही हैं। एक दिन आकर बैठ लीजिएगा, अगर यहां पर काम करना है तो।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it