Begin typing your search...

कद्दावर नेता के आते ही बिजनौर लोकसभा क्षेत्र में मचा हड़कंप

कद्दावर नेता के आते ही बिजनौर लोकसभा क्षेत्र में मचा हड़कंप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

रिपोर्ट :नितिन द्विवेदी, बिजनौर

लोकसभा चुनाव 2019 का ऐलान हो चुका है और पहले चरण में बिजनौर जिले में 11 तारीख को होने है इसी के चलते राजनीतिज्ञ गलियारों में आरोप प्रत्यारोप की बौछार शुरू हो गयी बिजनौर में चुनाव आते ही पार्टियों के प्रत्यासिओ ने पुराने आरोपों की झड़ी लगा दी है आइये देखते है पूरा मामला l


चुनाव नजदीक आते ही सारे सियासी गलियारों में एक दूसरे के ऊपर आरोप प्रत्यारोप की झाडिया शुरू हो जाती है ऐसा लगता है की सारी दुश्मनी इसी समय निकल जाएगी l ताज़ा मामला बिजनौर जिले का है जहाँ चुनावी बाजार काफ़ी गर्म हो चुका है नास्सुमुद्दीन सिद्दीकी के जोकि काफ़ी कद्दावर नेता रहे है जिसे कांग्रेस ने बिजनौर जिले की कमान सौप रखी है बिजनौर पहुंचते ही चुनावी घमासान छिड़ गया आज बिजनौर जिले में अचानक आरोप उस समय लग गया जब सिद्दीकी साहब दुबारा कलेक्ट्रट परिसर पहुचे और मीडिया के सामने सारा दुखड़ा रो दिया l


आपको ये भी बताते चले की ऐन मौके पर बीएसपी से मलूक नागर को कमान बिजनौर जिले की सौपी गयी है और नामांकन के समय ही कमिया पायी गयी और आपत्ति जताई गयी अन्य पार्टियो के द्वारा इसी मुद्दे पर सिद्दीकी साहब ने ये कह दिया की जिस आदमी को मैंने उंगली पकड़कर चलना सिखाया आज वही मुझे बता रहा है मीडिया ने जब मलूक नागर से जवाब सवाल किया तो बीएसपी प्रत्यासी नजरे चुराने का प्रयास किया और सही घबरा गए आखिर क्यों करना चाहते है नागर सिद्दिकी साहब के साथ ऐसा क्योंकि नागर साहब को ये तो आपको पता होना चाहिए कितने बड़े नेता रहे है सिद्दीकी साहब और कितना बड़ा पद रहा है पिछली पार्टी में और आज इनके बिजनौर आने से गठबंधन प्रत्यासी घबरा गए है l

Special Coverage News
Next Story
Share it