Begin typing your search...

तमंचे की नोक पर लूट की बनाई गई थी योजना, पुलिस मुठभेड़ के दौरान बदमाश हुआ गिरफ्तार

तमंचे की नोक पर लूट की बनाई गई थी योजना, पुलिस मुठभेड़ के दौरान बदमाश हुआ गिरफ्तार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिजनौर। लूट की घटना को अंजाम देने वाले दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया है। इस मुठभेड़ में दोनों बदमाशों को जहां गोली लगी है। तो वहीं इस घटना में पुलिस का एक सिपाही भी गोली लगने से घायल हो गया है। पुलिस ने दोनों घायल बदमाश और सिपाही को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। इस घटना से आसपास के क्षेत्र में सनसनी फैल गई।


गौरतलब है कि बिजनौर के सिविल लाइन क्षेत्र में 19 जुलाई को मुथूट फाइनेंस कंपनी में एक बदमाश द्वारा तमंचे की नोक पर लूट की योजना बनाई गई थी। लेकिन फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी व सुरक्षा गार्ड द्वारा बदमाश को पकड़ने के दौरान बदमाश तमंचा लहराते हुए घटनास्थल से फरार हो गया था। इस घटना में बदमाश द्वारा चलाई गई गोली की दहशत से एक व्यक्ति की हार्ट अटैक से मौत भी हो गई थी।

आज पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर पटियाला के शातिर बदमाश रंजीत फौजी उर्फ बिट्टू व अमजद जो कि हर्षाली मुजफ्फरनगर का रहने वाला है। इन दोनों को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया है। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि रंजीत फौजी एनएसजी का बर्खास्त कमांडर सिपाही है और यह पटियाला का रहने वाला है।एसपी सिटी प्रवीण रंजन सिंह ने इस घटना को लेकर बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ बदमाशों द्वारा शहर में लूट की योजना बनाई जा रही है।

इस योजना को देखते हुए पुलिस ने एसओजी टीम व थाना कोतवाली शहर पुलिस की मदद से 19 जुलाई को फाइनेंस कंपनी में लूट करने वाले दो बदमाशों को 300 ग्राम सोने व दो अवैध तमंचे सहित एक बाइक के साथ गोलीबारी में गिरफ्तार किया है। जहां इस गोलीबारी में दोनों बदमाशों को गोली लगी है। तो वहीं एक सिपाही बादल भी इस घटना में सभी घायलों को जिला अस्पताल के लिए भेजा जा रहा है।उधर पुलिस पूछताछ में भी यह पता चल पाया है कि यह दोनों बदमाश राजस्थान में इनामी बदमाश भी हैं।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it