Begin typing your search...

रावण, कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले 50 साल से बना रहा मुस्लिम

रावण, कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले 50 साल से बना रहा मुस्लिम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फैसल खान बिजनौर

इन दिनों पूरे देश में दशहरे की तैयारी बड़ी जोर शोर के साथ चल रही है। इसी कड़ी में बिजनौर में भी दशहरे की तैयारी चल रही है। 5 अक्टूबर को रावण, कुंभकरण, मेघनाथ के पुतलों को दहन कर असत्य पर सत्य की जीत का त्योहार मनाया जाएगा।

50 साल से नजाकत व शराफत बना रहे पुतले

इन पुतलों को करीब 50 साल से बिजनौर के मोहल्ला बुखारा के रहने वाले मुस्लिम परिवार बनाता चला आ रहा है। पुतलों को बना रहे नजाकत व शराफत का कहना है, " उनका पूरा परिवार सदियों से यह काम करता चला रहा है। उनके दादा परदादा इसी काम को करते थे और अब वह भी इसी काम में जुटे हुए हैं, करीब डेढ़ महीने पूरा परिवार कड़ी मेहनत के बाद इन पुतलों को तैयार करता है। पुतले लगभग तैयार हो चुके हैं। इनको अंतिम रूप दिया जा रहा है।

शराफत बोले- आखिरी सांस तक नहीं छोड़ेंगे ये काम

शराफत का कहना है, " पुतले बनाने में बांस का इस्तेमाल होता है, साथ ही कागज रद्दी, रंग और पेंट भी किया जाता है, इसके अलावा इसमें कुछ पटाखे भी लगाए जाते हैं। पुतले बनाने में रोजगार के साथ-साथ खुशी भी मिलती है। बराई पर अच्छाई की जीत के लिए खुशी मिलती है और आगे भी इसी काम को करते रहेंगे जिससे हिन्दू-मुस्लिम भाईचारा बना रहे।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it