Begin typing your search...

सरकारी प्राथमिक स्कूल बना तबेला

सरकारी प्राथमिक स्कूल बना तबेला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सरकारी प्राथमिक स्कूल की उस वक़्त पोल खुली जब इलाके के लोगो ने अपनी निजी पशुओं को सरकारी प्राथमिक स्कूल के कमरे में बांधकर स्कूल को पशुओं को ही तबेला बना दिया मीडिया की सुर्खियां बनी खवर के बाद बिजनौर बीएसए ने टीचर के खिलाफ जाँच कर कार्यवाही की बात बया की है।

बिजनौर जिले में बेसिक शिक्षा विभाग के अफसरों की घोर लापरवाही देखने को मिली है। जलीलपुर ब्लाक के मीरापुर खादर ग्राम के प्रधान पति सुनील ने बताया कि उनकी ग्राम पंचायत के गांव मुज्जफरपुर के सरकारी प्राथमिक स्कूल में टीचर कभी कभी ही आते है और ग्रामीणों ने स्कूल के कमरों में बकरियों को बांधना शुरू कर दिया। स्कूल को गांव वालों ने तबेला बना कर रख दिया वही शिक्षा विभाग के अफसरों की पोल भी खोल कर रख दी है।

ग्राम प्रधान पति का ये भी आरोप है कि कल स्कूल में टीचर 11 बजे आये थे। लेकिन टीचर से लेकर एबीएसए और बीएसए तक की लापरवाही नजर आ रही है। स्कूलों में टीचर बहुत ही कम संख्या में पहुच रहे है। समय समय पर स्कूल में अफसरों द्वारा निरिकक्षण नही किया जाता है। खबर दिखाए जाने के बाद अफसरों की नींद टूटी है और आनन फानन में बीएसए जांच के बाद कार्यवाही करने की बात बयां कर रहे है ।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it