Top
Begin typing your search...

करोड़ों रुपए की कार व बाइक के साथ वाहन चोर माफिया गिरफ्तार

करोड़ों रुपए की कार व बाइक के साथ वाहन चोर माफिया गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फैसल खान

बिजनौर। करोड़ों रुपए की कार व कई बाइक के साथ पुलिस ने अंतरराज्यीय वाहन माफिया चोरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने 13 चोरों को गिरफ्तार किया है। यह सभी लोग आसपास के जनपदों से कार व बाइकों को चुराकर उनका नंबर प्लेट बदलकर अलग-अलग जनपदों में बेचने का काम कर रहे थे।

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर इन्हें बिजनौर के चक्कर चौराहे से गिरफ्तार किया है।पुलिस ने इनके पास से 10 कार व 10 बाइक बरामद की हैं। पुलिस ने इनके पास से तमंचा और कारतूस भी बरामद किए हैं।

एसपी के दिशा निर्देश पर पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस द्वारा लगातार अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत स्वाट टीम व थाना कोतवाली शहर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर चक्कर चौराहे नगीना रोड से वाहन चोर माफियाओं को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से अलग-अलग कंपनी की 10 लग्जरी कारें बरामद की हैं। साथ ही पुलिस ने इनके पास से 10 बाईक भी बरामद की हैं।

यह लोग काफी समय से मेरठ, मुजफ्फरनगर, शामली और आसपास के जिलों से वाहन को चुराकर जयपुर व मणिपुर सहित अन्य जगहों पर वाहनों को बेचने का काम कर रहे थे। यह लोग गाड़ियों को चुराकर 3 से 4 लाख रुपये में बेच देते थे। जबकि दो पहिया वाहनों को 5 से 10 हज़ार रुपयों में बेचने का काम कर रहे थे।एसपी डॉ धर्मवीर सिंह ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि वाहन चोर माफिया महेंद्र अपने साथियों के साथ मिलकर वाहन चोरी का काम कर रहा है।

पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर वाहन माफिया सरगना महेंद्र व उनके साथी दीपक, शाहिद,ऋषभ, मोहम्मद शाहिद,मन्नावर, शहजाद, अमित त्यागी, अंकित ठाकुर,नवाज खान सहित कुल 13 लोगों को वाहन चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है।पुलिस पूछताछ में पता चला कि यह वाहनों का नंबर सहित इंजन का नंबर व चेचिस नंबर बदलकर उनके नकली कागजात तैयार करके अन्य अन्य जनपदों में बेचने का काम कर रहे थे। पुलिस आज इन्हें गिरफ्तार करके जेल भेज रही है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it