Begin typing your search...

कोरोना पर नियंत्रण, यूपी में सबसे बेहतर, महाराष्ट्र, दिल्ली में संक्रमित केसों की संख्या ज्यादा

भारत में कोरोना वायरस का मामला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 12 हजार पार कर गई है।

कोरोना पर नियंत्रण, यूपी में सबसे बेहतर, महाराष्ट्र, दिल्ली में संक्रमित केसों की संख्या ज्यादा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

भारत में कोरोना वायरस का मामला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 12 हजार पार कर गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 12380 हो गई है, वहीं मृतकों का आंकड़ा भी 414 पहुंच चुका है। इससे पहले बुधवार को देश में संक्रमण के 1,000 से ज्यादा मामले सामने आए थे। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए लॉकडाउन का दूसरा चरण देश में लागू है।

कोरोना के बढ़ते मामलों में यूपी में काफी हद तक में काबू करने में सरकार को सफलता मिली है। अगर बात की जाय की दो प्रमुख राज्यों की जनसंख्या के आधार पर तुलना करने में यह महामारी यूपी में नियंत्रित दिख रही है।

यूपी देश का सबसे बड़ा राज्य है। जहां 23 करोड़ की आबादी है वही कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 15 अप्रैल तक 727 है। वहीं कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना शासित महाराष्ट्र को देखें, तो वहां की आबादी 11,26,72,972 है, जबकि यहां कोरोना संक्रमित केसों की संख्या 2801 है।

यूपी में कुल प्राप्त केसों में 428 मरीज तब्लीगी जमात और उसके कारण संक्रमित हुए लोगों की हैं। यह आंकड़ा 80 फीसदी के करीब है। एक तरफ अन्य राज्य में जहां मरीजों की संख्या में काफी वृद्धि हो रही है।

वहीं उत्तर प्रदेश में इसकी रफ्तार काफी कम है। इसकी वजह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त फैसलों को माना जा रहा है। उन्होंने प्रदेश के कई हिस्सों में अलग-अलग तरह से बैन लगाकर इस बीमारी पर शुरुआत से ही नियंत्रण बनाने का रास्ता तैयार कर लिया था।

एक तरफ योगी ने जहां प्रदेश में लॉक डाउन को सफलता पूर्वक लागू करवाने एवं गरीब कल्याणकारी योजनाओं को जमीनी स्तर पर पहुंचाने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों की अध्यक्षता 11 कमेटियों का गठन किया है जो बराबर नजर रख रही हैं।

उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर अगर आम आदमी पार्टी शासित दिल्ली को देखा जाए, तो 1.9 करोड़ की जनसंख्या वाले इस राज्य में 14 अप्रैल तक संक्रमित मरीजों की संख्या 1561 है।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it